जम्मू-कश्मीर: राम माधव बोले- श्यामा प्रसाद मुखर्जी का सपना हुआ पूरा

0
110
views

नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर पर बहुत बड़ा फैसला लिया है. गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म करने संकल्प राज्यसभा में पेश किया है.

इसके अलावा राज्यसभा में अमित शाह ने राज्य पुनर्गठन विधेयक को पेश किया है. इसके तहत जम्मू-कश्मीर से लद्दाख को अलग कर दिया गया है. लद्दाख को बिना विधानसभा केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है.

अमित शाह की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि लद्दाख के लोगों की लंबे समय से मांग रही है कि लद्दाख को केंद्र शासित राज्य का दर्ज दिया जाए, ताकि यहां रहने वाले लोग अपने लक्ष्यों को हासिल कर सकें.

बीजेपी नेता राम माधव ने कहा कि सरकार ने सात दशक पुरानी मांग को पूरा कर दिया है. भारतीय संघ में जम्मू-कश्मीर के एकीकरण का जो सपना डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने देखा था और जिसके लिए हजारों लोगों ने शहादत दी, वो हमारे आंखों के सामने सच हो रहा है.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 में यह प्रावधान किया गया था. इसे लेकर जनसंघ के संस्थापक  श्यामा प्रसाद मुखर्जी इस प्रावधान के सख्त खिलाफ थे. उन्होंने धारा 370 हटाने के लिए आंदोलन चलाया था. मुखर्जी का बलिदान जम्मू-कश्मीर में हुई था.