जम्मू-कश्मीर : घाटी के हालात बयां करती ये तस्वीर !

0
239
views

जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटने से पहले से ही वहां भारी तादाद में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है. जम्मू और श्रीनगर में धारा 144 लागू है और कई इलाकों में कर्फ्यू भी लगाया गया है. इस बीच वहां से एक ऐसी खूबसूरत तस्वीर आई है जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई. इस तस्वीर को घाटी में अमन और शांति की उम्मीद के तौर पर देखा जा रहा है.

घाटी में तैनात CRPF की एक महिला सुरक्षाकर्मी को स्थानीय बच्चे से हाथ मिलाने की इस फोटो की खूब चर्चा हो रही है. सीआरपीएफ जवान की इस फोटो को दूरदर्शन और प्रसार भारती ने गुरुवार को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए लिखा कि यह विश्वास और मुस्कुराहट का अटूट संगम है. इसके बाद लगातार यूजर्स इसे शेयर कर रहे हैं और इस फोटो की तारीफ कर रहे हैं. घाटी में आज शुक्रवार के दिन जुमे की नमाज भी पढ़ी जानी है जिसके लिए पुख्ता इंतजाम किए

वहीं कश्मीर प्रशासन ने सभी कर्मचारियों का काम पर लौटने के निर्देश भी दिए.

  • गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव ने सरकारी कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से काम पर वापस लौटने का निर्देश दिया है.
  • इसके अलावा सांबा जिले के स्कूल शुक्रवार से खुल जाएंगे, हालांकि बाकी जिलों में बकरीद के बाद से ही स्कूल-कॉलेज खुल पाने की उम्मीद जाहिर की जा रही है.
  • जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव ने एक आदेश में कहा, ‘डिविजनल लेवल, डिस्ट्रिक्ट लेवल और श्रीनगर स्थित सिविल सेक्रटेरियट में काम करने वाले सभी कर्मचारी तत्काल प्रभाव से काम पर लौटें.
  • इसके साथ ही प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं कि ड्यूटी पर आने वाले सभी कर्मियों की सुरक्षा और कामकाज के शांतिपूर्ण माहौल को हर हाल में सुनिश्चित किया जाए.
  • आदेश में कहा गया है कि प्रशासन ने कर्मचारियों को सुचारू और सुरक्षित कार्य वातावरण प्रदान करने के लिए आवश्यक व्यवस्था की है.
  • प्रवक्ता ने बताया कि किसी भी सहायता के लिए, कर्मचारी 2571616,  2571912 और 2520542 में उपायुक्त और क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं.

सांबा जिले में खुलेंगे स्कूल

जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक बयान जारी कर बताया है कि सांबा जिला प्रशासन ने सभी स्कूल और कॉलेज आज से पहले की ही तरह खोलने का फैसला लिया है. सभी शिक्षण संस्थान, फिर चाहे वे सरकारी हों या प्राइवेट 9 अगस्त से विधिवत खुलेंगे और पहले की तरह ही वहां कामकाज होगा.