मनाली : अंजनी महादेव में मनाया गया महाशिवरात्रि का पर्व

0
94
views

मनाली. देशभर में शुक्रवार को शिवरात्रि का त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है. हिमाचल प्रदेश को देवभूमि के नाम से भी जाना जाता है. ऐसे में यहां भी महाशिवरात्रि का त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है.

  • मनाली के सोलांगनाला में हालांकि, खासा नजारा है. सोलांगवैली में अंजनि महादेव में मिनी अमरनाथ का नजारा देखने को मिल रहा है.
  • सोलंगनाला से 4 किलोमीटर दूर अंजनि महादेव में दूर-दूर से पर्यटक पंहुच रहे हैं.
  • इस बार भी अंजनी महादेव में करीब 20 से 25 फीट उंचा शिवलिंग बना हुआ है, जिसे देखने के लिए पर्यटक यंहा पर पंहुच रहे हैँ.
  • मान्यता है कि माता अंजनि ने पुत्र प्राप्ति के लिए यहां तपस्या की थी.
  • तब यहां पर भगवान शिव प्रकट हुए थे और तभी से लेकर यहां बर्फ का शिवलिंग बनता है.
  • पुजारी राजेश ने बताया कि हर साल यहां प्राकृतिक रूप से बर्फ से शिवलिंग का निर्माण होता है, जिसका आकार हर साल बदलता रहता है.
  • लोगों में इस स्थान के लिए प्रति गहरी आस्था है. इस स्थान की खोज बाबा प्रकाश पुरी ने की थी.
  • अंजनी महादेव में शिवलिंग के दर्शन के लिए आए लोगों का कहना है कि यहां शिवलिंग का निर्माण किसी चमत्कार से कम नहीं है.

 अंजनी महादेव में शिवलिंग के दर्शन के लिए आए लोगों का कहना है कि यहां शिवलिंग का निर्माण किसी चमत्कार से कम नहीं है. बाकि जगह पर भी बर्फ गिरती है, लेकिन इस तरह का शिवलिंग नहीं बनता है.

  • बाकि जगह पर भी बर्फ गिरती है, लेकिन इस तरह का शिवलिंग नहीं बनता है.
  • 80 के दशक में हरियाणा के महात्मा बाबा प्रकाश पुरी यहां पहुंचे थे और उन्होंने यहां तपस्या शुरू की.
  • इन दिनों बाबा प्रकाश पुरी के शिष्य रवि पुरी अंजनी महादेव मंदिर के पुजारी हैं.
  • इस साल नियमित बर्फबारी से शिवलिंग का आकार पिछले साल के मुकाबले अधिक ऊंचा बना है.
  • पारा माइनस में जाते ही यहां शिवलिंग का आकर बनना शुरू हो गया था और इन दिनों आकार 25 फीट से भी अधिक ऊंचा हो गया है, यह प्राकृतिक शिवलिंग 11,000 फीट की ऊंचाई पर है.

विंटर सीजन में अंजनी महादेव पर्यटकों के साथ स्थानीय लोगों के लिए एक धार्मिक स्थल बन जाता है. सोलंगनाला से करीब चार किलोमीटर ऊपर अंजनी महादेव है. यहां करीब 25 फीट शिवलिंग बना हुआ है.