मक्का मस्जिद ब्लास्ट: फैसले के बाद जज रविंद्र रेड्डी ने दिया इस्तीफा

0
53
views

11 साल पहले हैदराबाद में हुए मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में फैसला सुनाने के कुछ घंटों के अंदर एनआईए जज रविंद्र रेड्डी ने सभी को चौंकाते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. वह इस्तीफा देने के बाद छुट्टी पर चले गए हैं.

रेड्डी के इस्तीफे के कारणों का पता नहीं चल सका है. जानकारी के मुताबिक उन्होंने अपने इस्तीफे में निजी कारणों का हवाला दिया है और इसके बाद वह लंबी छुट्टी पर भी चले गए हैं. उनके इस्तीफे के बारे में तमाम कयास लगाए जा रहे हैं.

जज रेड्डी के अचानक इस्तीफे से एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी हैरानी जताई है, और उन्होंने कहा कि उनका इस्तीफा हैरान करने वाला है और संदेह भी पैदा करता है.

2007 में हैदराबाद की ऐतिहासिक मक्का मस्जिद में हुए ब्लास्ट मामले में जुमे की नमाज के दौरान हुए धमाके के मामले में सोमवार को एनआईए की विशेष कोर्ट ने फैसला सुनाया. इस मामले में असीमानंद समेत सभी 5 आरोपियों को बरी कर दिया गया.

जांच अधिकारी को भी बीच से हटाया

दो हफ्ते पहले ही इस केस की जांच में शामिल एनआईए अधिकारी डॉ. प्रतिभा अंबेडकर को भी अचानक जांच से हटा दिया गया था. यूपी काडर की यह महिला अधिकारी डेप्युटेशन पर थीं और उन्हें तीन साल और आठ महीने हुए थे, लेकिन उन्हें समय पूरा होने उत्तर प्रदेश से बुला लिया गया. इस मामले पर उन्होंने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. इससे पहले 2015 में मुंबई की वरिष्ठ वकील रोहिनी सालियान ने एनआईए पर आरोप लगाया था कि उनसे 2008 के मालेगांव धमाके केस के आरोपी दक्षिणपंथी संगठनों के सदस्यों पर नरम रुख अपनाने का दबाव बनाया जा रहा  था. मालेगांव धमाके के कुछ आरोपी मक्का मस्जिद धमाके के भी आरोपी थे.