हिमाचल : HPU में इस साल भी नहीं होंगे छात्र संघ चुनाव

0
88
views

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (Himachal Pradesh University) में इस बार भी छात्र संघ चुनाव नहीं होंगे. यूनिवर्सिटी प्रशासन ने छात्र संघ चुनाव पर लगे प्रतिबंध को जारी रखने का फैसला लिया है. HPU कुलसचिव घनश्याम चंद ने यूनिवर्सिटी और उसके कॉलेजों में छात्र संघ का गठन मेरिट आधार पर कराने की अधिसूचना जारी की है.

  • सूबे के यूनविर्सिटी से मान्यता प्राप्त सरकारी कॉलेजों में सत्र 2019-20 के लिए SCA मनोनयन का शेड्यूल रिलीज किया गया है.
  • इसके तहत तीन से 12 सितंबर तक SCA का गठन करना होगा.
  • इसके बाद SCA के पदाधिकारियों का ब्योरा यूनिवर्सिटी को भेजना होगा.

 

2014 में लगा था प्रत्यक्ष चुनाव पर बैन

  • यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में बढ़ती हिंसा को देखते हुए साल 2014 में छात्र संघ के चुनाव पर हिमाचल में बैन लगाया गया था, जो अब भी जारी है.
  • HPU के तत्कालीन कुलपति प्रो. ADN वाजपेयी के कार्यकाल में प्रत्यक्ष छात्र संघ चुनाव पर प्रतिबंध लगा था.
  • इसके बाद मनोनयन के जरिये छात्र संघ के चुनाव का खाका खींचा गया और संविधान तैयार किया था.

1996 से 2000 तक नहीं हुए थे चुनाव
जानकारी के अनुसार, साल 1996 से 2000 तक भी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में हिंसा के चलते छात्र संघ चुनाव पर प्रतिबंध लगाया गया था. चार साल तक SCA नहीं बनी. छात्र संगठनों के आंदोलन के बाद चुनाव 2000 में बहाल किए गए थे, जो साल 2014 तक होते रहे.

इस वजह से लगी थी रोक
साल 2014 से हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी सहित 135 कॉलेज में SCA चुनाव नहीं हो रहे हैं. बढ़ती हिंसा के चलते वर्ष 2014 में कांग्रेस कार्यकाल में प्रदेश भर के कॉलेजों और HPU में चुनाव पर रोक लगाई गई थी. लेकिन भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में भी SCA चुनाव को बहाल करने की बात कही थी. हाल ही में 50वें स्थापना दिवस पर सीएम ने कहा था कि छात्रों की मांगें पूरी करने के लिए जरूरी नहीं की चुनाव हों. स्टूडेंट की डिमांड प्रशासन और सरकार अन्य कई तरह से पूरा कर रही है.