अनिल विज बोले- अब CID सीरियल की तरह मामलों की जांच करेगी पुलिस

0
89
views

हरियाणा की पुलिस अब सीआइडी सीरियल की तरह मामलों की जांच करेगी. सभी मामलों को अदालतों में अंजाम तक पहुंचाया जाएगा. जो आरोपित सुबूतों के अभाव छूट जाते थे, अब सजा की दर बढ़ाने पर फोकस होगा. थानों का मॉडर्नाइजेशन, नशा कारोबारियों पर रोक लगाने पर पुलिस काम करेगी. साथ ही पुलिस के वेलफेयर के लिए भी एक कमेटी का गठन किया जाएगा. यह बात हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने मंगलवार को पंचकूला पुलिस मुख्यालय में कई घंटे पुलिस अधिकारियों की क्लास लेने के बाद कही.

अनिल विज ने पुलिस मुख्यालय पहुंच कर पिछले एक साल का पूरा लेखा-जोखा अधिकारियों से पूछा और साथ ही प्रदेश में कानून व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए निर्देश दिए.अधिकारियों से बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में अनिल विज ने कहा कि गृह मंत्री बनने के बाद आज हरियाणा के पुलिस अधिकारियों की पहली बैठक ली है. किस अधिकारी के पास क्या काम है और किस तरह से पुलिस की व्यवस्था चल रही है, इस बारे में विस्तृत चर्चा हुई है.

विज ने कहा, मैं अधिकारियों की कार्यप्रणाली से संतुष्ट हूं.कानून व्यवस्था को नियंत्रण में रखने के लिए पुलिस ठीक काम कर रही है परंतु कुछ और बेहतर काम करने की कोशिश है. पुलिस को मॉडर्नाइजेशन करने के लिए बेहतर प्रयास करने होंगे. देश की सबसे मॉडर्न पुलिस बनाएंगे विज ने निर्देश दिए कि हरियाणा पुलिस को देश की सबसे मॉडर्न और आधुनिक हथियारों से लैस पुलिस बनाने के लिए विदेश के जिस भी कोने से हथियार खरीदने हैं या अन्य उपकरणों की जरूरत है, वह खरीदे जाएं.

अनिल विज ने कहा, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से हरियाणा पुलिस लैस की जाएगी. इस समय आरोपितों को सजा मिलने की दर 50 प्रतिशत से भी कम है जिसे बढ़ाने के लिए निर्देश दिए गए हैं. हरियाणा की फॉरेंसिक लैब अच्छा काम कर रही हैं.18 महीने पहले 13 हजार 300 केस लंबित थे, लेकिन लैबों ने अच्छा काम करते हुए अब केवल 3000 मामले ही पें¨डग छोड़े.

नशे पर लगाएंगे अंकुश विज ने निर्देश दिए कि प्रदेश में अवैध शराब, जुआ, सट्टा बाजार, नशीली दवाओं पर प्रहार करना पुलिस की प्राथमिकता है, इसलिए जहां से भी नशा प्रदेश में सप्लाई हो रहा है, वहां पर अंकुश लगाया जाए और शराब माफियाओं पर शिकंजा कसा जाएगा.

उन्होंने कहा कि नशा कारोबारियों को जेल के अंदर पहुंचाया जाएगा. जेलों की कमी पड़ी तो और भी नई जेलें बनवाई जाएंगी. उन्होंने कहा कि पुलिस को अच्छा माहौल मिले, इसके लिए भी एक वेलफेयर कमेटी का गठन किया जाएगा जहां पर भी आपात स्थिति में पुलिस लगाई जाएगी, वहां उनके लिए भोजन की व्यवस्था भी की जाएगी. नहीं आने देंगे बजट की कमी विज ने कहा कि पुलिस को बजट की किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी.

पंचकूला में सेंट्रालाइज डायल 100 पुलिस कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है, जहां पर पूरे प्रदेश से कॉल रिसीव होंगी और संबंधित जिले के थाने में दो व्हीकल पर अतिरिक्त स्टाफ मुहैया करवाया जाएगा जोकि डायल पर आने वाली शिकायतों का निपटान करेगा. छह महीने में यह सुविधा शुरु हो जाएगी.

विज ने कहा कि गृह मंत्री बनने के बाद मेरे पास शिकायतों की बाढ़ आ गई है और जिन भी लोगों ने शिकायतों का निपटानेे में कोताही बरती है, उन पर कार्रवाई की जाएगी। विज ने पुलिस को निर्देश दिए हैं कि ट्रैफिक व्यवस्था मैनेज की जाए. ऑटोरिक्शा बस को खड़ा करने के लिए स्थान मुहैया करवाया जाए.