प्रद्युम्न केस: हरियाणा पुलिस के कुछ कर्मचारियों की हो सकती है गिरफ्तारी

0
571
views
प्रद्युम्न हत्याकांड: हरियाणआ पुलिस के कुछ कर्मचारियों की हो सकती है गिरफ्तारी

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड में नया खुलासा हुआ है। सीबीआई इस मामले में कुछ पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक, गुरुग्राम पुलिस ने इस केस की शुरुआत में ही सबूतों को ख़त्म कर दिया था। पुलिस ने कंडक्टर अशोक को फंसाने के लिए फर्ज़ी चाकू की बरामदगी दिखाई थी।

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक सीबीआई ने कहा कि प्रद्युम्न मर्डर केस में गुड़गांव पुलिस ने सबूतों के साथ छेड़छाड़ की थी। यहां गौर करने वाली बात यह है कि इस मर्डर की शुरुआती जांच में गुड़गांव पुलिस ने रेयान स्कूल के बस कंडक्टर अशोक को आरोपी बनाया था। वहीं प्रद्युम्न के परिजनों की जिद्द पर शुरू हुई सीबीआई जांच में पुलिस की थ्योरी बिल्कुल गलत साबित हुई। सीबीआई ने अशोक को मामले में क्लीनचिट दे दी और स्कूल के ही 11वीं के छात्र को हत्या का आरोपी बनाया है। जांच और आरोपी छात्र के पूछताछ के आधार पर सीबीआई ने कहा है कि आरोपी छात्र ने परीक्षा की डेट टलवाने के लिए प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या की थी.

 प्रद्युम्न मर्डर केस की जांच में लापरवाही और सबूतों से छेड़छाड़ की शिकायत सीबीआई हरियाणा के डीजीपी को चिट्ठी भी लिख सकती है। ऐसे में गुड़गांव पुलिस के अफसरों पर कार्रवाई भी हो सकती है।