भारतीय टीम के स्पिनर ने किया संन्यास का ऐलान, 33 साल की उम्र में क्रिकेट को कहा अलविदा

0
129
views
BANGALORE, INDIA - SEPTEMBER 02: Indian Bowler Pragyan Ojha celebrates with teammates after the dismissal of New Zealand batsman Ross Taylor during third day of second Test match between India and New Zealand at M. Chinnaswamy stadium on September 2, 2012 in Bangalore, India. (Photo by Gurpreet Singh/Hindustan Times via Getty Images)

भारतीय क्रिकेट टीम के एक खिलाडी ने तत्काल प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। हम बात कर रहे हैं स्पिनर प्रज्ञान ओझा की, जिन्होंने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच साल 2013 में मुंबई में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। इस मैच में उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था। ओझा ने पहली पारी में पांच और दूसरी पारी में पांच विकेट लिए ‌थे। दिलचस्प बात है कि सचिन तेंदुलकर के करियर का भी ये आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच था।

Image result for pragyan ojha test career

प्रज्ञान ओझा ने ट्विटर पर ऐलान किया कि वह तत्काल प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट ले संन्यास ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय टीम के लिए खेलना उनका बचपन का सपना था और उन्हें खुशी है कि वह ऐसा कर पाए और देश के फैंस का प्यार और इज्जत हासिल की। भुवनेश्वर में जन्मे प्रज्ञान ओझा ने टीम इंडिया के लिए 24 टेस्ट, 18 वनडे और 6 टी20 मुकाबले खेले. उन्होंने टेस्ट में 113, वनडे में 21 और टी20 में 10 विकेट अपने नाम किए।

भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा  ने टीम इंडिया में खेलने का श्रेय भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (को दिया। ओझा ने कहा, ‘मुझे भारतीय टीम में खेलने का मौका देने के लिए मैं महेंद्र सिंह धोनी का शुक्रिया अदा करता हूं।’ ओझा का नाम इंडियन प्रीमियर लीग  के इतिहास में भी दर्ज है. वह आईपीएल इतिहास के पर्पल कैप विजेता बनने वाले पहले स्पिनर हैं। उन्होंने साल 2010 के आईपीएल में 21 विकेट लेकर पर्पल कैप अपने नाम की थी।

प्रज्ञान ओझा ने अपने आईपीएल करियर में तीन खिताब जीते हैं। हैदराबाद डेक्कन चार्जर्स के साथ एक और मुंबई इंडियंस के साथ दो आईपीएल खिताब जीत चुके हैं। ओझा ने इंडियन प्रीमियर लीग में कुल 92 मैच खेले हैं। इनमें उन्होंने 89 विकेट हासिल किए हैं।