PM मोदी ने कांग्रेस से पूछा- उनकी पार्टी मुस्लिम पुरुषों की ही है या मुस्लिम महिलाओं की भी

0
200
views

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में शनिवार को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की आधारशिला रखी. इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने योगी सरकार की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार ने विकास का उत्तम वातावरण बनाने का काम किया है. अपराध और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण लगाकर योगी जी ने प्रदेश में निवेश लाने और उद्यमियों के लिए व्यापार को सुलभ बनाने का काम किया है.

पीएम मोदी ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश, खासकर पूर्वी उत्तर प्रदेश को और ऊंचाई पर ले जाएगा. उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के रूप में विकसित होगा. इस पर 23,000 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जाएंगे. मार्ग में आने वाले सभी स्थानों, शहरों और कस्बों में इससे बदलाव आएगा.

अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने राहुल गांधी के एक कथित बयान को लेकर सवाल उठाए. उन्होंने कहा, ‘मैंने अखबार में पढ़ा कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष ने ये कहा कि कांग्रेस मुस्लिमों की पार्टी है. पिछले दो दिन से चर्चा चल रही है. मुझे आश्चर्य नहीं हो रहा है. पहले जब मनमोहन सिंह जी की सरकार थी तब स्वयं प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी ने कह दिया था कि देश के प्राकृतिक संसाधनों पर सबसे पहला अधिकार मुसलमानों का है.’

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, ‘मैं कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष से पूछना चाहता हूं कि कांग्रेस पार्टी मुस्लिमों की पार्टी है. आपको ठीक लगे आपको मुबारक लेकिन कांग्रेस को यह बताना चाहिए कि उनकी पार्टी केवल मुस्लिम पुरुषों की ही है या महिलाओं की भी है.’

तीन तलाक पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा ‘कांग्रेस और विपक्ष के दूसरे दल संसद को चलने नहीं देते हैं और चाहते हैं कि तीन तलाक़ चलता रहे. ये राजनीतिक दल चाहते हैं कि तीन तलाक होता रहे, मुस्लिम महिलाओं का जीवन नर्क बना रहे. 21वीं सदी में ऐसे राजनीतिक दल जो 18वीं शताब्दी में गुजारा कर रहे हैं वो मोदी को हटाने के नारे दे सकते हैं. देश का भला नहीं कर सकते.’

उन्होंने कहा, ‘जब बीजेपी सरकार ने संसद में कानून लाकर मुस्लिम बहनों को अधिकार देने की कोशिश तो उसमें भी रोड़े अटकाने का काम किया. ये चाहते हैं कि तीन तलाक होता रहे, मुस्लिम बहनों का जीवन नर्क होता रहे. मैं इन दलों को समझाकर उनको साथ लाने की कोशिश करूंगा.’

वहीं विपक्षी पार्टियों के गठबंधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘जो कभी एक दूसरे को देखना नहीं चाहते थे, पसंद नहीं करते थे वो अब एक साथ आ रहे हैं. सुबह शाम जब भी मिलो सिर्फ मोदी-मोदी करते हैं. अपने स्वार्थ के लिए ये जितने भी जमानत पर हैं, वे मिलकर के सभी परिवारवादी पार्टियां आपके विकास को रोकने पर तुले हुए हैं. उन्हें पता है कि अगर गरीब, किसान, दलित, पिछड़े अगर सशक्त हो घए तो उनकी दुकानें हमेशा के लिए बंद हो जाएंगी.’