पंजाब सरकार ने दी राहत, बिना लेट फीस के बिजली बिल 20 अप्रैल तक जमा कर सकेंगे

0
205
views

कोरोना वायरस संकट के चलते पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बिजली उपभोक्ताओं के लिए निर्धारित दरों में कटौती करने के साथ-साथ बिलों की अदायगी के लिए समय सीमा टालने का एलान किया है. सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस राहत से पॉवरकॉम पर 350 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय बोझ पड़ेगा. मुख्यमंत्री ने निरंतर सप्लाई जारी रखने में पीएसपीसीएल और पीएसटीसीएल के कर्मचारियों की कोशिशों की भी सराहना की.

उन्होंने आदेश दिया कि बिजली विभाग द्वारा कर्फ्यू, लॉकडाउन खत्म होने तक अदायगी न करने पर कोई भी कनेक्शन काटा नहीं जाएगा. पीएसपीसीएल को अपना बकाया अदा करने में असमर्थ होने की स्थिति के चलते उपभोक्ताओं को राहत देने का एलान किया गया है. सीएम के निर्देशों के अनुसार, सभी घरेलू और व्यापारिक उपभोक्ताओं को 20 मार्च को या इसके बाद अदा करने वाले मौजूदा दो-माह के 10,000 रुपये तक के बिलों की निर्धारित तारीख बिना किसी लेट फीस के 20 अप्रैल तक कर दी गई है.

इसके अलावा उन खपतकारों को 1 प्रतिशत छूट दी जाएगी जो डिजिटल तरीके से बिलों का भुगतान निर्धारित तारीख पर करेंगे. यह सब रियायतें सभी औद्योगिक उपभोक्ताओं-मीडियम और बड़े स्तर पर सप्लाई वाले औद्योगिक उपभोक्ताओं के 20 मार्च या इसके बाद के बिजली बिलों की अदायगी पर भी लागू रहेगी. सीएम ने निर्देश दिए हैं कि औद्योगिक उपभोक्ताओं को 23 मार्च के बाद अगले दो महीनों के लिए निर्धारित शुल्कों से छूट दी जाए.