कौन टीम सर्वश्रेष्ट है ये जरूरी नहीं, सबक लेना महत्वपूर्ण- राहुल द्रविड़

0
282
views

भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने मुख्य कोच रवि शास्त्री के इंग्लैंड दौरे पर ‘सर्वश्रेष्ठ टीम’ संबंधी बयान पर कहा है कि यह मायने नहीं रखता कि कौन सर्वश्रेष्ट है और कौन नहीं. अभी टीम के लिए ये जरूरी है कि टीम ने उससे क्या सीख ली और उसे अब किस तरह आगे बढ़ना है.

शुक्रवार को राहुल द्रविड़ ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इस पूरी बात को बढ़ा चढ़ाकर पेश कर दिया गया और शास्त्री क्या सोचते हैं और क्या नहीं, इस पर टिप्पणी करने में मेरी दिलचस्पी नहीं है. महत्वपूर्ण यह है कि हमने इन सब चीजों से क्या सीख ली है और अगली बार दौरा करने के लिए हमें क्या करना चाहिए.’

पूर्व कप्तान ने कहा, ‘कौन सर्वश्रेष्ठ है और कौन नहीं ये मेरे लिए मायने नहीं रखता है. मैं इस तरह से नहीं सोचता क्योंकि सारी चीजों को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर दिया गया. मेरे लिए महत्वपूर्ण यह है कि हमने इस सबसे सबक सीखा है और अगली बार इंग्लैंड दौरे पर हम क्या बेहतर कर सकते हैं ?’

उन्होंने टीम इंडिया का सपोर्ट करते हुए कहा, ‘भारतीय टीम को 3 या 4 साल में इंग्लैंड का दौरा करना होता है. इस दौरान खिलाड़ियों के साथ सपोर्ट स्टाफ को भी निराशा होती है क्योंकि कोई नहीं जानता कि अगले 4 सालों में क्या होगा, लेकिन इस बार वास्तव में हमारी टीम काफी अच्छी थी. हमारी गेंदबाजी शानदार रही और इस बार हमारे फील्डर्स ने भी जबरदस्त प्रदर्शन किया.’

द्रविड़ ने यूएई में चल रहे एशिया कप के बारे में कहा कि वास्तव में टूर्नामेंट में पूरा ध्यान भारत और पाकिस्तान के मैच पर केंद्रित किया जा रहा है, लेकिन आपको ये समझना होगा कि बांग्लादेश और अफगानिस्तान भी अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं हमें अन्य टीमों से भी सतर्क रहने की जरूरत है.