दिल्ली हिंसा भड़़काने में पाकिस्तान के ट्विटर हैंडल्स का रोल-रिपोर्ट

0
141
views

नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी हिस्से (Delhi Violence) में भड़की हिंसा के पीछे पाकिस्तान (Pakistan) का हाथ होने के सबूत सामने आ रहे हैं.

  • खबर है कि पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद (Islamabad) में कम से कम 200 ट्विटर हैंडल्स के जरिये भारतीय मुस्लिमों को पुलिस (Delhi Police) के खिलाफ भड़काया गया.
  • एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा तैयार किए गए एक डोजियर में यह बात सामने आई है.
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि फरवरी 25 से 3 मार्च के बीच #ShameonDelhiPolice, #DelhiPoliceTruth and #DelhiPoliceMurders जैसे हैशटैग्स के जरिये सैंकड़ों की संख्या में ट्विटर हैंडल्स की मदद से दिल्ली पुलिस को निशाना बनाया गया.
  • रिपोर्ट में दावा किया गया कि भारतीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा की गई गहन जांच में सामने आया है कि पाकिस्तान में इन सोशल मीडिया हैंडल का इस्तेमाल भारत में सांप्रदायिक उन्माद फैलाने के लिए किया गया.
  • अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान में बनाए गए ट्विटर हैंडल्स में से कुछ का भारत में शुरू किए गए ट्विटर हैंडल्स से भी संपर्क था.
  • इनमें से कई की पहचान हो चुकी है. डोजियर में 70 ट्विटर हैंडल्स का जिक्र है, जो इस्लामाबाद, रावलपिंडी, कराची, लाहौर से संचालित हो रहे थे और #DelhiRiots2020 हैशटैग का इस्तेमाल कर ट्वीट कर रहे थे. वहीं 100 से ज्यादा ट्विटर हैंडल्स ने #DelhiBurning का इस्तेमाल किया.

गृह मंत्री ने भी किया था इशारा!
डोजियर के अनुसार इस पूरी कोशिश के पीछे यह दिखाना था कि दिल्ली पुलिस ने सांप्रदायिक हिंसा के दौरान मुसलमानों को निशाना बनाया, जिसमें 53 लोग मारे गए और लगभग 500 घायल हो गए. हालांकि ऐसा नहीं हुआ.

इससे पहले संसद में दिल्ली हिंसा पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने भी विदेशी ताकतों का हाथ होने का इशारा किया था. राज्यसभा में चर्चा के बाद जवाब देते हुए गृह मंत्री ने कहा था कि 24 फरवरी के पहले सरकार के पास यह सूचना आ चुकी थी कि विदेश और देश से आये पैसे को दिल्ली में बांटा गया था. उन्होंने कहा कि इस संबंध में दिल्ली पुलिस जल्द ही ब्योरे की घोषणा करेगी. पुलिस ने इस संबंध में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.’