मरीजों के लिए अच्छी खबर, सफदरजंग अस्पताल में 12 घंटे की होगी OPD

0
145
views

मरीजों के लिए अच्छी खबर है, अब सफदरजंग अस्पताल में 12 घंटे की ओपीडी होगी, सुबह 8 बजे से शुरू होगी और रात 8 बजे तक चलती रहेगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सफदरजंग अस्पताल को 8 से 8 बजे की ओपीडी शुरू करने के लिए कहा है. मंत्रालय ने फिलहाल पायलट प्रॉजेक्ट के तहत अस्पताल में गायनी, पीडिएट्रिक्स, सर्जरी और मेडिसिन डिपार्टमेंट में 12 घंटे की ओपीडी शुरू करने को कहा है. मंत्रालय के इस प्रस्ताव को लेकर अस्पताल प्रशासन ने इन चारों डिपार्टमेंट से उनके कमेंट्स मांगे है. यहां मंत्रालय ने यह भी साफ कर दिया है कि मौजूदा रिसोर्स में ही इसे शुरू किया जाए, सिर्फ पैरामेडिकल और सपॉर्ट स्टाफ को इससे छूट मिलेगी.

आमतौर पर अस्पतालों में 6 घंटे की ओपीडी होती है, इसलिए मरीजों की भीड़ लग जाती है. सरकार की सोच है कि कम समय में एक साथ सैकड़ों लोग पहुंचने से भीड़ बढ़ती है. इसलिए सरकार ओपीडी का टाइम बढ़ाने पर विचार कर रही है. अभी 2 बजे के बाद आने वाले मरीजों को ओपीडी में इलाज नहीं मिलता है, उन्हें दूसरे दिन का इंतजार करना पड़ता है. सरकार का कहना है कि अगर यह प्रॉजेक्ट सफल रहा तो बाकी डिपार्टमेंट में भी शुरू किया जाएगा और फिर दूसरे अस्पतालों में लागू किया जा सकता है.

समें सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि फिलहाल सरकार रिसोर्स में सुधार के बिना इसे लागू करने की योजना बनाई है, जिसका डॉक्टर कम्यूनिटी विरोध कर रही है. इस बारे में फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर असोसिएशन (FORDA) ने विरोध जताया है. उनका कहना है कि एक डॉक्टर लगातार 12 घंटे तक कैसे काम कर सकता है, यह गलत है. सरकार को सुविधाओं को भी बढ़ाना होगा तभी यह संभव होगा.

इस बारे में एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर असोसिएशन के प्रेजिडेंट हरजीत सिंह भट्टी ने कहा कि यह डॉक्टरों के लिए गुलामी जैसा है. ओपीडी में बाकी सभी स्टाफ चेंज होंगे लेकिन डॉक्टर एक ही होंगे. उन्होंने कहा कि दो दिन पहले हाई कोर्ट ने रेजिडेंट डॉक्टरों का ड्यूटी टाइम फिक्स करने को कहा है, यह तो हुआ नहीं उल्टे 12 घंटे की ओपीडी शुरू करने की योजना है. डॉक्टर ने कहा कि इलाज करने वाले लोग भी इंसान हैं. वहीं सूत्रों का कहना है कि अस्पताल के चारों डिपार्टमेंट से कमेंट्स मिल चुके हैं और वे इसको मंत्रालय में भेज चुके हैं.