मैच से पहले हुई बहन की मौत, कप्तानी पारी खेल बंग्लादेश को दिलाया वर्ल्ड कप

0
25
views

ढाका. साउथ अफ्रीका में हुए अंडर 19 वर्ल्ड कप (ICC Under 19 Cricket World Cup) के फाइनल में बांग्लादेश ने मजबूत भारतीय टीम को 3 विकेट से मात दी. बांग्लादेश ने पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. बांग्लादेश की इस जीत में उसके कप्तान अकबर अली (Akbar Ali) ने बड़ा रोल अदा किया. ना सिर्फ उन्होंने इस दबाव भरे मैच में अच्छी कप्तानी की बल्कि उन्होंने भारत की मजबूत गेंदबाजी का डटकर सामना किया और नाबाद 43 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई. टीम को वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद खुलासा हुआ है कि अकबर अली वर्ल्ड कप में एक ऐसे दर्द के साथ खेले, जिसे बयां कर पाना मुश्किल होता है. दरअसल वर्ल्ड कप के दौरान अकबर अली की बड़ी बहन की मौत हो गई थी और वो टूर्नामेंट के दौरान इस सदमे से भी जूझ रहे थे.

 

अकबर की बहन की मौत
18 साल के अकबर (Akbar Ali) की बहन की 22 जनवरी को जुड़वां बच्चों को जन्म देते समय मौत हो गई थी और इसके बावजूद वो पाकिस्तान के खिलाफ 24 जनवरी को मैच खेलने उतरे थे. बांग्लादेश के अखबार ‘प्रथम आलो’ की रिपोर्ट के अनुसार खदीजा खातून के इंतकाल के बारे में अकबर को बताया नहीं गया था लेकिन बाद में उन्हें अपने भाई से इसकी जानकारी मिली. अकबर के पिता ने कहा, ‘वह अपनी बहन के सबसे करीब था. वह अकबर से बहुत प्यार करती थी.’ उन्होंने कहा, ‘हमने पहले उसे नहीं बताया. पाकिस्तान के मैच के बाद उसने फोन किया और अपने भाई से पूछा, मेरे भीतर उससे बात करने की हिम्मत नहीं थी.’ खदीजा ने 18 जनवरी को ग्रुप सी में बांग्लादेश की जिम्बाब्वे पर जीत देखी थी लेकिन अपने भाई को देश का पहला विश्व कप जीतते देखने के लिए जिंदा नहीं रही.

बता दें अकबर अली की खासियत उनकी कप्तानी रही. अकबर अली दूसरे बांग्लादेशी खिलाड़ियों के मुकाबले बेहद शांत रहे और उन्होंने बखूबी अपनी टीम का नेतृत्व किया. नतीजा बांग्लादेश की टीम वर्ल्ड कप में एक भी मैच नहीं हारी और भारत को हराकर वर्ल्ड कप चैंपियन बनी