या वक्त पर आएं अधिकारी, या फिर खामियाजा भुक्तें- सुरेश प्रभु

0
256
views
15 घंटे से ज्यादा लेट होने वाली ट्रेनों में 800 फीसदी की वृद्धि

ट्रेनों की लेट-लतीफी को लेकर मिल रही शिकायतों पर रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि या तो ट्रेनों के समय पर चलने को सुनिश्चित करें या फिर कार्रवाई को तैयार रहें। मंत्रालय की तरफ से जोनल हेड को तुरंत रात के 10 बजे से सुबह 7 बजे तक एक वरिष्ठ स्तर के अधिकारी को तैनात करने को कहा गया है।

ट्रेनों के परिचालन में देरी को रोकने के मकसद से स्थिति की निगरानी रखने और समस्याओं को सुलझाने के लिए यह फैसला लिया गया है। उन्होंने अधिकारियों को पत्र लिखते हुए इस समस्या से निपटने के लिए तत्काल कदम उठाने का निर्देश दिया। पिछले वर्ष की तुलना में 1 से 16 अप्रैल के बीच में ट्रेनों के समय पर चलने की दर 84 फीसदी से घटकर 79 फीसदी हो गई। इस दर में 4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।