तापसी पन्नू की फ़िल्म ‘थप्पड़’ का दूसरा ट्रेलर रिलीज़, दिखाया गया यह सीन

0
79
views

तापसी पन्‍नू की फिल्‍म ‘थप्‍पड़’ का ट्रेलर कुछ दिनों पहले रिलीज किया गया था जिसे फैंस ने काफी पसंद किया। अब ऐसा लग रहा है कि ऐक्‍ट्रेस ने दूसरे ट्रेलर में फिल्‍म को प्रमोट करने का इनोवेटिव तरीका निकाला है जिसे मेकर्स ने मंगलवार को रिलीज किया।

‘थप्‍पड़’ के पहले ट्रेलर को सिलेब्‍स और ऑडियंस से पॉजिटिव रिस्‍पॉन्‍स मिला था जिसमें तापसी एक निडर कैरक्‍टर में दिखी थीं। अब 1 मिनट 16 सेकंड के नए ट्रेलर में तापसी दर्शकों से अपनी ही फिल्‍म के ट्रेलर को रिपोर्ट करके बैन करने की रिक्‍वेस्‍ट कर रही हैं।

 

अगर आपके अंदर भावनाएं हैं, लोगों की फिक्र है तो यह ट्रेलर का यह नया तरीका आपको झकझोरने के लिए काफी है। ट्रेलर की शुरुआत में पति अपनी पत्‍नी (तापसी) से कहता है कि इंटरनेट ठीक से नहीं चल रहा है। इस पर उसकी पत्‍नी हंसी के मोड में कहती है, ‘हां, जो भी ठीक से नहीं चल रहा है, वह मेरा।’

इसके बाद पिछले ट्रेलर की तरह इस बार भी उस सीन को दिखाया गया है जिसमें तापसी का पति उन्‍हें थप्‍पड़ मारता है लेकिन फिर यहां से नया कॉन्‍सेप्‍ट पेश किया गया है। ट्रेलर के बीच तापसी कहती हैं, ‘आगे के सीन्‍स का वेट कर रहे हो? पूरा ट्रेलर देखने का? आप शायद इस थप्‍पड़ से आगे बढ़ सकते हो, मैं नहीं क्‍योंकि यह थप्‍पड़ मेरे लिए कोई आम बात नहीं है।’

ऐक्‍ट्रेस आगे कहती हैं, ‘आप भी इस तरह के इंसल्टिंग बिहेवियर को आम बात मत बनाइए। शुरुआत के लिए इस ट्रेलर को रिपोर्ट करिए और इसे बनाइए दुनिया का सबसे ज्‍यादा रिपोर्टेड ट्रेलर क्‍योंकि जिस तरह प्‍यार में थप्‍पड़ की कोई जगह नहीं है, उसी तरह इंटरनेट पर इस तरह के विडियो की कोई जगह नहीं है। थप्‍पड़… बस इतनी सी बात नहीं है।’

पिछली बार की तरह इस बार भी ट्रेलर में तापसी की मौजूदगी रोंगटे खड़े कर देती है। हमेशा की तरह उनकी इंटेंसिटी बरकरार है। जब वह कहती हैं कि आप शायद इस थप्‍पड़ से आगे बढ़ सकते हो, लेकिन वो नहीं क्‍योंकि यह थप्‍पड़ उनके लिए कोई आम बात नहीं है तो दिमाग के तुरंत महिलाओं की वह छवि तैयार हो जाती है जो बहुत से घरों की कहानी है।

वर्सेटाइल ऐक्‍ट्रेसेस की लिस्‍ट में तापसी
तापसी ने इस रोल को चुनकर साबित किया है कि उन्‍हें अब इंडस्‍ट्री की वर्सेटाइल ऐक्‍ट्रेसेस की कैटिगरी में क्‍यों रखा जाता है। वह जिस कन्‍विक्‍शन के साथ अपने डायलॉग्‍स को बोलती हैं, उससे लगता है कि यह रोल शायद ही उनसे बेहतर कोई कर पाता।

मनवाया ऐक्‍टिंग का लोहा
गौरतलब है कि तापसी पिछले कुछ समय से लगातार ऐसी फिल्‍में कर रही हैं जिनका कॉन्‍टेंट दर्शकों के दिलों में छाप छोड़ जाता है। फिर चाहे वह ‘पिंक’ या ‘नाम शबाना’ हो या फिल्‍म ‘मुल्क’, ‘मनमर्जियां’, ‘बदला’ और ‘सांड की आंख’ जैसी फिल्में हों, तापसी ने हर फिल्‍म में अपनी ऐक्टिंग का लोहा मनवाया है।

क्‍या है फिल्‍म की कहानी?
फिल्‍म की कहानी एक महिला के इर्द-गिर्द है जो अपने पति को छोड़ने का फैसला कर लेती है जब वह उसपर हाथ उठा देता है। फिल्‍म में दिखाया गया है कि कैसे तापसी का कैरक्‍टर समाज के दबाव से गुजरते हुए अपनी लड़ाई लड़ता है।