कानपुर महर्रम जुलूस के दौरान यूपी के तीन जिलों से हिंसा की खबर आ रही है. कानपुर में रूट बदले जाने के बाद हिंसा भड़की, आगजनी और फायरिंग की गई. वहीं बलिया में भी हिंसा और आगजनी के बाद कर्फ्यू लगा दी गई है. कुशीनगर में जुलूस के दौरान अराजक तत्वों ने थाना प्रभारी पर हमला कर दिया, जिसके बाद दूसरे पक्ष ने हंगामा किया. कानपुर की स्थिति उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े शहर कानपुर में मुहर्रम के जुलूस को लेकर बवाल हुआ है. रूट बदलने की वजह से हुए विवाद के बाद आगजनी और फायरिंग की घटनाएं घटी हैं. प्रशासन ने हालात

कानपुर उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस की बेशर्मी पर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने मानवता की ऐसी मिशाल पेश की खुद पुलिस को शर्मसार होना पड़ गया. डिप्टी सीएम की फ्लीट के रास्ते पर पड़े जिन घायलों को पुलिस ने हॉस्पिटल तक पहुंचना जरूरी नहीं समझा उन्हें डिप्टी सीएम खुद उतर कर उनको एम्बुलेंस में ही नहीं बैठाया बल्कि खुद उनको अपनी फ्लीट के साथ लेकर अस्पताल में भर्ती कराने पहुंच गए. उनकी इस मानवता से पुलिस के साथ-साथ वह लोग भी शर्मसार हो गए जो मौके पर घायलों की सहायता करने की जगह मोबाइल से घायलों वीडियो

यूपी के पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव अपने समर्थकों के साथ औरैया थाना जा रहे थे. वे समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व विधायक प्रदीप यादव से मिलने जा रहे थे. अखिलेश और उनके साथियों को पुलिस ने उन्नाव-एक्सप्रेसवे के पास हिरासत में ले लिया था, लेकिन कुछ देर बाद उन्हें हिरासत से छोड़ दिया गया है. अखिलेश को हिरासत में लिए जाने के बाद समाजवादी कार्यकताओं ने हाईवे पर हंगामा शुरू कर दिया. माहौल को बिगढ़ते देख पुलिस ने उनकी बातों को मानते हुए आश्वासन देकर छोड़ दिया है. गौरतलब है कि  औरैया  में जिला पंचायत अध्यक्ष पद