पटियाला के बाहर महमूदपुर में किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है. अपनी मांगों को लेकर किसान धरने पर बैठे हुए हैं. सोमवार को भी भारी तादाद में किसान प्रदर्शन में शामिल हुए. प्रदर्शन के दौरान किसानों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो वो बड़ी कुर्बानी से भी पीछे नहीं हटेंगे. इस दौरान किसानों ने सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल पर सवाल उठाए. किसानों ने कहा कि चुनाव से पहले कांग्रेस ने जो वायदे किए थे,उन्हें पूरा नहीं किया जा रहा है. दरअसल, पंजाब के किसान हर

पंजाब में कर्ज माफी के नोटिफिकेशन को मंजूरी मिलने के बावजूद भी किसान जत्थेबंदी पटियाला शहर से बाहर महमूदपुर में प्रदर्शन कर रहे हैं.किसानों ने सीएम कैप्टन अमिरंदर के न्यू मोती बाग पैलेस के घेराव की चेतावनी दी थी, लेकिन हाईकोर्ट के दखल के बाद किसानों ने शहर के बाहर महमूदपुर में प्रदर्शन किया. दरअसल पंजाब के किसान हर तरह का कर्ज माफ करने, पराली न जलाने की एवज में प्रति एकड़ पांच हजार रुपए देने और हर तरह की फसल का एमएनपी तय कराने की मांग कर रहे हैं, उधर पटियाला में सीएम निवास के घेराव के एलान पर