चंडीगढ़ पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने किसानों के बारे में पंजाब सरकार के रवैये पर कड़ा रुख दिखाया है। हाईकोर्ट ने कहा कि लगता है पंजाब सरकार को किसानों की परवाह नही हैं। हाईकोर्ट के बार-बार कहने के बाद भी पंजाब सरकार इस विषय को गंभीरता से नहीं ले रही। यही कारण है कि राज्य के किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य  से भी आधी कीमत पर फसल बेचने पर मजबूर होना पड़ रहा है। हाईकोर्ट ने पंजाब के कृषि सचिव को आदेश दिए हैं कि वह 26 सितंबर को मामले की अगली सुनवाई पर सरकार का पक्ष स्पष्ट करें। वह कोर्ट

पंजाब में रेत खनन घोटाले पर सियासत गरमाती जा रही है. सुखपाल खैरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बिजनेसमैन कैप्टन रंधावा के दावों को बेबुनियाद बताया और कैप्टन सरकार की ओर से इस घोटाले की जांच को मजाक बताया. वहीं, शिरोमणि अकाली दल ने भी कैप्टन सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और राणा गुरजीत के इस्तीफे की मांग की है.