भारतीय हॉकी आपको चौंकाने का मौका कभी नहीं छोड़ती. बेहद दिलचस्प हालात में देश के खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने ट्विटर के जरिए बताया कि भारतीय पुरुष सीनियर हॉकी टीम के कोच वाल्थेरुस मरीजिने होंगे. इसी के साथ हरेंद्र सिंह को महिला टीम का चीफ कोच बनाने का फैसला किया है. अब जानिए कि इसमें दिलचस्प क्या है. सबसे पहले यह कि कोच पद के लिए अप्लाई करने की आखिरी तारीख 15 सितंबर थी. यानी अप्लाई करने का वक्त ही नहीं दिया गया. हॉकी इंडिया के एक अधिकारी के मुताबिक सात सितंबर को मीटिंग के बाद तय किया गया कि फैसला

चैंपियंस ट्रॉफी के बाद टीम इंडिया के लिए नया कोच चुना जाना है. अनिल कुंबले का कार्यकाल बढ़ाया जा सकता है पर अभी तक वीरेंद्र सहवाग इस रेस में आगे चल रहे हैं. इस बीच, सहवाग ने बीसीसीआई को जो आवेदन भेजा है वो सिर्फ दो लाइन का है. ऐसे में बोर्ड ने सहवाग से डिटेल सीवी की मांग की है. एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, सहवाग ने अपनी सीवी में लिखा है- इंडियन प्रीमियर लीग के Kings XI Punjab में मेंटर और कोच. इन लड़कों (भारतीय खिलाड़ियों) के साथ क्रिकेट खेल चुका हूं. सूत्रों से मिली जानकारी के