हिमाचल प्रदेश असेंबली इलेक्शन में गुड़िया गैंगरेप केस 3 सीटों पर असर डाल सकता है। बीजेपी और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी कांग्रेस को घेरने की तैयारी कर चुकी हैं। इनमें से एक सीट ठियोग भी है। यहां से 89 विद्या स्टोक्स कांग्रेस कैंडिडेट हैं। आपको बता दें, गुड़िया से 4 जुलाई को गैंगरेप हुआ था। इसके बाद उसकी हत्या कर बॉडी जंगल में ही फेंक दी गई थी। कोटखाई और ठियोग के लोग यहां सड़कों पर उतर आए थे। मामले की जांच सीबीआई कर रही है। राज्य की एसआईटी के अफसरों को भी गिरफ्तार किया गया है। गुड़िया का गांव चौपाल विधानसभा

आईजी जहूर एच जैदी, ठियोग के पूर्व डीएसपी मनोज जोशी समेत आठ पुलिस कर्मियों को सोमवार को कोर्ट ने सीबीआई की मांग पर दोबारा रिमांड पर भेज दिया। ये सात सिंतबर तक फिर से सीबीआई के रिमांड पर रहेंगे। सीजेएम शिमला रंजीत सिंह की अदालत में सोमवार दोपहर बाद पहले से ही रिमांड पर चल रहे सभी पुलिस कर्मियों को पेश किया गया। सीबीआई ने गुड़िया मामले से संबंधित लॉकअप हत्याकांड में इस्तेमाल पट्टों और अन्य वस्तुओं की रिकवरी के लिए पुलिस रिमांड की मांग की। जब पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की ओर से पेश किए गए वकीलों ने कहा कि पहले