सिक्किम क्षेत्र में डोकलाम के मुद्दे पर चीन के साथ 2 महीने से भी लंबे समय तक जारी गतिरोध अब समाप्त होने जा रहा है। भारत और चीन दोनों देश डोकलाम से अपनी सेना हटाने को तैयार हो गए हैं। कूटनीतिक और रणनीतिक तौर पर इसे भारत की जीत माना जा रहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। MEA Press Statement on Doklam Disengagement Understanding pic.twitter.com/fVo4N0eaf8 — Raveesh Kumar (@MEAIndia) August 28, 2017 विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है, 'हाल के हफ्तों के दौरान भारत और चीन ने डोकलाम को लेकर कूटनीतिक बातचीत

जी20 समिट के लिए जर्मनी के हैम्बर्ग शहर में दुनिया के शीर्ष नेताओं का जुटान हुआ है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सम्मेलन के लिए हैम्बर्ग पहुंचे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन और तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगॉन के साथ चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर इस बार के सम्मेलन में सबकी निगाहें होंगी. हैम्बर्ग पहुंचे हर नेता का अपना एजेंडा है, लेकिन जोर आतंकवाद, क्लाइमेट चेंज और पोटेक्शनिज्म पर बातचीत के जरिए बेहतर भविष्य के लिए रास्ता बनाने का है. सम्मेलन में औपचारिक बातचीत के अलावा भी और बहुत कुछ घट