टोक्यो जापान के पीएम शिंजो आबे ने देश में आकस्मिक चुनाव कराने का एलान करते हुए गुरुवार को संसद के निचले सदन को भंग कर दिया। चुनाव अगले महीने 22 अक्टूबर को होने की संभावना है। पीएम आबे ने देश में आकस्मिक चुनाव कराने का एलान सरकार का कार्यकाल पूरा होने के एक साल पहले ही ऐसे समय में किया है, जब ओपिनियन पोल में आबे की स्थिति काफी मजबूत बताई गई है। आबे सरकार के अहम घटक और कौमितो पार्टी के प्रमुख नात्सुवो यामागुची का मानना है चुनाव 22 अक्टूबर को होंगे। आबे ने संसद भंग करने के बाद सांसदों के

पिछले कुछ दिनों से खबरें आ रही हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एनडीए अपना उम्मीदवार बना सकता है. हालांकि अब सुषमा स्वराज ने इन खबरों का खंडन करते हुए इन्हें महज अफवाह बताया है. उन्होंने यह साफ किया है कि वह राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नहीं हैं. पत्रकारों ने जब विदेशमंत्री से पूछा कि क्या राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए उनके नाम पर गौर किया जा रहा है तो उन्होंने कहा कि ये अफवाह हैं. उन्होंने कहा कि वह एक्सटर्नल अफेयर्स की मंत्री हैं और पत्रकार उनसे इंटरनल अफेयर्स से जुड़ा सवाल पूछ रहे

राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई है. निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी. निर्वाचन अधिकारी अनूप मिश्रा की ओर से जारी अधिसूचना में यह जानकारी दी गई है. इसके साथ ही राष्टपति पद के चुनाव की औपचारिक प्रक्रिया शुरू हो गई है. जानाकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से चर्चा के लिए बीजेपी के तीन सदस्यों की एक समिति बनाई है. इस समिति में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री अरुण

ऋषिकेश उत्तराखंड के ऋषिकेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री मंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला. चरखे वाली तस्वीर को लेकर पीएम मोदी पर तंज निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि अगले साल जब रामलीला होगा तो वहां भी भगवान राम मोदी का मास्क पहन कर आएंगे. राहुल ने नाटकीय तरीके से मंच पर अपना फटा कुर्ता दिखाते हुए कहा कि मोदी गरीब की राजनीति करते हैं, पर उनके कपड़े कभी नहीं फटते. राहुल ने यहां एक बार फिर कहा कि कांग्रेस का चुनाव चिह्न 'हाथ' हर धर्म में नजर आता