आंगनवाड़ी वर्कर और हेल्परों द्वारा अपनी मांगों को लेकर जेल भरो आंदोलन की घोषणा की गई थी, जिसके बाद प्रदर्शन करने पहुंची महिला वर्करों की पुलिस के साथ जमकर हाथापाई हुई. जिसके कई आंगनवाड़ी वर्कर और महिला पुलिस कर्मचारी घायल हो गए.  पुलिस ने आंगनवाड़ी वर्कर व हैल्परों को जिलाधीश कार्यालय मैदान में रोका जिस कारण ये झड़प हुई. इस संबंधी गुरदासपुर सिटी पुलिस स्टेशन इंचार्ज शाम लाल, गुरदासपुर सदर पुलिस स्टेशन इंचार्ज रजिन्द्र कुमार तथा तिबड़ पुलिस स्टेशन इंचार्ज कुलवंत सिंह की अगवाई में भारी पुलिस फोर्स जिलाधीश कार्यालय को जाने वाले रास्तों पर तैनात किया गया है. दूसरी और आंगनवाड़ी

पठानकोट में नशे में धुत दंबगों का हंगामा शांत करने गई पुलिस पर उलटा दंबगों ने ही हमला कर दिया। इस हमले में एक एएसआई घायल हो गया। दरअसल देर रात ये दबंग शराब पीकर शहर में हुड़दंग मचा रहे थे। जिसके बाद मौके पर पंहुची पुलिस ने इन्हें शांत कराने की कोशिश की। जब ये लोग नहीं माने तो पुलिस मेडिकल के लिए अस्पताल ले गई। जिसके बाद अस्पताल में दबंगों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। इस हमले में एएसआई गुरमेल सिंह घायल हो गए। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामला बढ़ता देख पुलिस की

पंजाब पुलिस ने मुंबई में आतंकियों के घुसने की खबर के बाद प्रदेश भर में अलर्ट जारी कर दिया है और प्रमुख शहरों में चौकसी बढ़ा दी है. बठिंडा में एसएसपी नवीन सिंगला के आदेश के बाद रेलवे स्टेशन पर सिटी पुलिस, एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड, आरपीएफ और जीआरपी की ज्वाइंट चैकिंग हुई. इस दौरान डीएसपी मनदीप सिंह ने बताया कि बस स्टैंड पर रेलवे स्टेशन पर आने वाली हर गाड़ी की जांच की जा रही है. यात्रियों के सामान को भी चेक किया जा रहा है.कोई भी संदिग्ध व्यक्ति दिखने पर उससे पूछताछ की जा रही है.