पटियाला के समानिया गेट के पास फीलखाना सीनियर सैकेंडरी स्कूल के सामने तीन मोटरसाइकिल सवारों लुटेरों ने लाखों की लूट की वारदात को अंजाम दिया. लुटेरों ने फिल्मी स्टाइल में एक बुजुर्ग से करीब साढ़े तीन लाख रुपए लूटकर फरार हो गए.  65 वर्षीय बुजुर्ग की पहचान धर्मपाल निवासी कटरा साहिब के तौर पर हुई. जिनके पास वर्धमान की एजैंसी है और वह रोज पैसे जमा करवाने अफसर कलोनी बैंक ब्रांच में जाता था. लूट की सारी घटना सी.सी.टी.वी कैमरे में कैद हो गई है. पुलिस ने अज्ञात लुटेरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लुटेरों की तलाश शुरु कर दी है.

आम आदमी पार्टी के विधायक और विपक्ष के नेता सुखपाल खैरा को हाईकोर्ट ने बड़ा झटका दिया है, पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने नशा तस्करी के मामले में सुखपाल खैरा की याचिका रद्द कर दी है, मामले में फाजिल्का कोर्ट से सुखपाल को सम्मन जारी किए गए हैं, जिसके बाद खैरा ने इस पर रोक लगाने के लिए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी, लेकिन कोर्ट ने खैरा की इस याचिका को रद्द कर दिया. कोर्ट ने मामले पर खैरा से कहा कि इस केस में पहले निचली अदालत इसका फैसला करेगी. पंजाब के एडवोकेट जनरल अतुल नंदा ने

लुधियाना में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अवैध वॉटर पैकिंग फैक्ट्री पर छापेमारी की है। छापेमारी के बाद फैक्ट्री को सील कर दिया गया। इस फैक्ट्री में बिना बीआईएस मार्क लाइसेंस के पानी पैक किया जा रहा था। पानी टेस्ट करने के लिए फैक्ट्री में कोई लैब भी नहीं बनाई गई थी। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मौके से मिली पानी के ग्लासों की 700 पेटियां नष्ट कर दी। स्वास्थ्य विभाग ने पानी के सैंपल जांच के लिए भेजे हैं।

लुधियाना-बरनाला रोड पर एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक, ट्रैक्टर ट्रॉली में रेत भरकर बरनाला रोड की ओर से ले जाई जा रही थी, लेकिन इसी दौरान उसका टायर पंचर हो गया। वहां मौजूद लोगों ने टायर लगाने के लिए जैक लगाया लेकिन वजन ज्यादा होने की वजह से ट्रैक्टर ट्रॉली पलट गई और उसके नीचे दबकर तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि दो घायल हो गए।

लुधियाना ड्रग तस्कर के साथ संबंधों के आरोपों का सामना कर रहे विपक्ष नेता सुखपाल खैहरा के विरोध में आप पार्टी के कई नेता आ गए है। उनका मानना है कि खैहरा को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। हालांकि पार्टी ने साफ कर दिया था कि इस मामले में सभी नेता तथा विधायक खैहरा के साथ हैं। पार्टी इस मामले में 2 धड़ो में बंट चुकी है। पार्टी  में बढ़ती साख के चलते अमन अरोड़ा,सर्बजीत कौर मनूके और बलजिंदर कौर ने पार्टी के सिद्धांतों का हवाला देते हुए खैहरा से इस्तीफे की मांग की है। वहीं उनका पक्ष रखने वालों का

जालंधर पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ब्रह्म महिंद्रा के नेतृत्व वाली कैबिनेट सब-कमेटी को पकोका (पंजाब कंट्रोल ऑफ ऑर्गेनाइज्ड क्राइम एक्ट) बारे कानून का मसौदा जल्द तैयार करने को कहा है जिससे राज्य में संगठित अपराध और गैंगस्टरों के विरुद्ध सख्ती से निपटा जा सके। इसी अादेश की पालना करने के लिए पंजाब के डी.जी.पी. सुरेश अरो़ड़ा ने कमान संभाल ली है। शहर में पहुंच उन्होंने मुलाजिमों को क्राईम कंट्रोंल के टिप्स दिए व उनकी समस्याएं जानी । इसके बाद सादगी का परिचय देते हुए कास्टेबल रैंक के मुलाजिमों के साथ  लंच किया । इस

पटियाला पंजाब में इन दिनों हिंदू नेताओं और अन्य धार्मिक शख्सियतों पर हो रहे हमलों के मामले में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि कहा कि इन घटनाओं के पीछे आतंकवादी हैं, क्योंकि पाकिस्तान नहीं चाहता है कि पंजाब में शांति बनी रहे। ये हमले पाकिस्तान की शह पर ही हो रहे हैं। कैप्टन ने यह बात दैनिक जागरण द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि खालिस्तान समर्थक ही ऐसी घटनाएं कर रहे हैं और इन पर काबू पाने के लिए डीजीपी ने सभी पुलिस उच्चाधिकारियों को जोनल और डीआइजी स्तर पर अपना इन्फॉर्मेंशन नेटवर्क

अबोहर में बुर्जा गांव के पास नहर में कार गिरने से चार लोगों की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि ये हादसा धुंध की वजह से हुआ. हादसे में कार का ड्राइवर बच गया. ड्राइवर ने तैरकर अपनी जान बचा ली. ये सभी लोग रुहड़िया वाली गांव में एक शादी समारोह में आए हुए थे. मृतकों में तीन हिसार और एक राजस्थान का रहने वाले है.  वहीं परिजनों को हादसे सूचना मिलने पर शादी के माहौल में मातम छा गया. मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल के शवगृह में रखवाया है.

फिरोजपुर के गांव गुलाम खेड़ा में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में विवाद इतना बढ़ गया कि एक पक्ष ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इस हमले में गोल्ड मेडलिस्ट पहलवान की गोली लगने से मौत हो गई। जबकि हमले में तीन लोग घायल बताए जा रहे हैं,,जिन्हें फरीदकोट के गुरु गोविंद सिंह मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। दरअसल,गांव गुलाम खेड़ा में रहने वाले लखवंदर सिंह और बोहड़ सिंह दो भाइयों का अपने ही गांव के बलकार सिंह के साथ जमीनी विवाद चलता आ रहा था। इसी विवाद को सुलझाने के लिए कई बार पंचायत भी बैठ चुकी