‌मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह केबिनेट ने भले ही विधायकों को पट्टे पर जमीन देने की मंजूरी दी है, ले‌किन नेता प्रतिपक्ष और पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने सरकार के इस फैसले को गलत करार दिया है। धूमल ने कहा है कि भूमिहीनों की बजाए विधायकों को कई बीघा जमीन देना गलत है। उन्होंने मंगलवार को हमीरपुर में जारी बयान में कहा क‌ि सरकार भूमिहीनों और आवासहीनों को जमीन देने का चुनावी वायदा भूल गई है। पांच साल तक जनता सरकार से जमीन की गुहार लगाती रही, लेकिन अब सरकार उनकी अनदेखी कर विधायकों को जमीन देने की बात कर रही है,