नई दिल्ली दिवाली के मौके पर हर कोई नए कपड़े पहनना चाहता है और अगर डिस्काउंट मिल जाए तब तो एक्सट्रा शॉपिंग करने में भी कोई हर्ज दिखाई नहीं देता. डिस्काउंट का फायदा उठाते हुए लोग तो अपने परिवार के लिए भी ढेर सारे गिफ्ट खरीद लेते हैं. इस बार आपकी ये शॉपिंग और भी सस्ती हो सकती है. वो इसलिए क्योंकि इस बार ग्राहकों को लुभाने के लिए ई-कॉमर्स कंपनियां एक महीने पहले ही बंपर छूट का तोहफा सबको दे रही हैं. ऐसे में आप दिवाली से पहली ही जी भरकर शॉपिंग कर सकते हैं. उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए

डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm ने आज से अपने पेमेंट बैंक की शुरुआत कर दी है, इसके बाद सभी यूजर्स को मैसेज के जरिए इसकी जानकारी दी जा रही है. कंपनी के मुताबिक पहले साल में 31 ब्रांच और 3,000 कस्टमर प्वॉइंट बनाए जाएंगे. आपको बता दें कि पहले एक मिलियन Paytm पेमेंट बैंक अकाउंट कस्टमर्स को 25 हजार रुपये जमा करने पर उन्हें 250 रुपये का इंस्टैंट कैशबैक दिया जाएगा. Paytm ने कहा है कि पेटीएम अकाउंट जीरो बैलेंस वाला होगा और सभी ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के लिए एक्स्ट्रा पैसे नहीं लिए जाएंगे. अगर आप Paytm यूजर हैं तो ये बातें आपके लिए जाननी जरूरी

पेटीएम का भुगतान बैंक कई महीनों की देरी के बाद आखिर अब 23 मई से शुरू हो जायेगा. उसे इसके लिये रिजर्व बैंक से अंतिम मंजूरी मिल गई है. इन सब के बाद पेटीएम पेमेंट बैंक की पहली सीईओ के नाम का भी खुलासा हो गया है. चमोली जिले की रेनू सती ऑनलाइन वॉलेट कंपनी पेटीएम पेमेंट बैंक की सीईओ बनी हैं. आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट बैंक के पहले सीईओ के रूप में 41 वर्षीय रेनू के नाम पर मुहर लगाई है. रेनू गौचर के पास झालीमठ गांव की मूल निवासी हैं. फिलहाल वह अपनी मां के साथ दिल्ली में रहती हैं। नोटबंदी

कई महीनों की देरी के बाद आखिर अब पेटीएम का भुगतान बैंक 23 मई से शुरू हो जायेगा. उसे इसके लिये रिजर्व बैंक से अंतिम मंजूरी मिल गई है. पेटीएम ने सार्वजनिक तौर पर जारी नोटिस में कहा है, ‘पेटीएम पेमेंट बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) को रिजर्व बैंक से अंतिम लाइसेंस प्राप्त हो गया है और यह 23 मई 2017 से काम करना शुरू कर देगा.’’ पेटीएम अपना वॉलेट का पूरा कारोबार पीपीबीएल में स्थानांतरित कर देगी. इसमें 21.80 करोड़ मोबाइल बटुआ इस्तेमाल करने वाले लोग जुड़े हैं. भुगतान बैंक का यह लाइसेंस भारतीय निवासी विजय शेखर शर्मा को मिला है. विजय शेखर