चंडीगढ़ डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने के महज कुछ ही देर बाद पंजाब की सुरक्षा व्यवस्था भी धरी की धरी रह गई। डेरा प्रेमियों ने करीब 9 जिलों में आगजनी की। हिंसा के बाद नौ जिलों में सेना की तैनाती कर दी गई है। इस दौरान कहीं पर सेवा केंद्र फूंका गया तो कहीं पर टेलीफोन एक्सचेंज को फूंकने का प्रयास किया। प्रशासन ने आठ जिलों बठिंंडा, मानसा, फरीदकोट, फिरोजपुर, मोगा, पटियाला, बरनाला व संगरूर में कर्फ्यू लगा दिया है। इसके अलावा फाजिल्का व मुक्तसर की एक-एक तहसील में भी कर्फ्यू लगाया गया है। इन

फरीदकोट की राजस्थान फीडर नहर में नहाने गए सोलह साल के लड़के की डूबने से मौत हो गई. इसकी पहचान लवप्रीत सिंह निवासी गांव टहना के तौर पर हुई है. जानकारी के मुताबिक रविवार को गर्मी ज्यादा होने के कारण लवप्रीत अपने दोस्तों के साथ राजस्थान फीडर नहर में नहाने गया था, लेकिन पानी का तेज बहाव होने के कारण वो पानी में डूब गया, और उसकी मौत हो गई. जबकि उसके साथी सुरक्षित बाहर निकल आए. गौरतलब है कि इस नहर में पहले भी कई हादसे हो चुके हैं, जिनमें कई जाने जा चुकी हैं. इसके बावजूद प्रशासन कोई ठोस कदम