हिमाचल के भट्टाकुफर एनएच पर करीब 30 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद वाहनों की आवाजाही के लिए खुल गया है। हालांकि, इस सड़क मार्ग को खोल तो दिया गया है, लेकिन अभी भी खतरा टला नहीं हैं। रविवार पर चंडीगढ़ से मौके पर पहुंची जियोलॉजिकल सर्वे चंडीगढ़ की टीम ने डिजास्टर मैनेजमेंट शिमला को जो रिपोर्ट दी है, वे लोगों को डराने वाली हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ढली टनल से लेकर मंदिर तक दायरे में आने वाली पहाड़ी में पानी का जबरदस्त रिसाव हो रहा है। ऐसे में ये पहाड़ी कभी भी जमींदोज हो सकती हैं।