देश सेवा में तैनात भारतीय सैनिकों के लिए हर आम नागरिक में सम्मान होता है। इसकी एक मिसाल कल (8 अक्टूबर) को जम्मू एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग में उस वक्त देखने को मिली, जब सेना की वर्दी में सीआरपीएफ के सैनिक चार्टर एयरक्राफ्ट से जम्मू से श्रीनगर के लिए रवाना हो रहे थे। ऐसे में वहां मौजूद आम लोगों ने खास अंदाज में उनके जज्बे को सलाम किया। #WATCH: CRPF personnel greeted by public with a thunderous applause just as they entered the terminal building of Jammu Airport (October 8) pic.twitter.com/NMeSg07oMg — ANI (@ANI) October 9, 2017 सैनिकों के एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग

भारतीय सेना ने म्यांमार बॉर्डर पर कई आतंकी शिविरों को ध्वस्त किया है। सेना की पूर्वी कमान ने जारी बयान में कहा है कि भारत-म्यांमार बॉर्डर पर आज सुबह तकरीबन पौने पांच पजे सेना की पूर्वी कमान के जवान पेट्रोलिंग कर रहे थे तभी अज्ञात घुसपैठियों ने फायरिंग की। भारत की सेना ने इस हिमाकत का करारा जवाब दिया और दुश्मन के कई आतंकियों को ढेर कर दिया, जबकि कई आतंकवादी घने जंगलों में भाग गये। इस कार्रवाई में सेना को किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। ना ही सेना ने भारत-म्यांमार अतंर्राष्ट्रीय सीमा को पार किया है। सेना के

इतिहासकार पार्था चटर्जी द्वारा भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत की तुलना ब्रिटिश जनरल डायर से करने पर विवाद खड़ा हो गया है. दरअसल पार्था चटर्जी ने अपने एक लेख में कश्मीर में मानव ढाल वाली घटना के संदर्भ में जनरल रावत की तुलना डायर से कर दी. चटर्जी ने एक न्यूज पोर्टल के लिए 2 जून को लिखे गए लेख में लिखा है कि कश्मीर ‘जनरल डायर मोमेंट’ से गुजर रहा है. उन्होंने कहा कि वर्ष 1919 में जलियांवाला बाग हत्याकांड के पीछे ब्रिटिश सेना के तर्क और कश्मीर में भारतीय सेना की कार्रवाई (मानव ढाल) का बचाव, दोनों में

श्रीनगर जम्मू-कश्मीर में LoC पर पाकिस्तानी सेना द्वारा किए गए सीजफायर के उल्लंघन का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है. सूत्रों के मुताबिक, बिंबर और बट्टल सेक्टर में की गई इस जवाबी कार्रवाई में जहां 5 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए हैं, वहीं 6 पाक सैनिक घायल हुए हैं. उधर, भारतीय सेना की इस कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्तान ने भारतीय उप उच्चायुक्त जे.पी. सिंह को अपने विदेश मंत्रालय में तलब किया है. बता दें कि राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा पर स्थित अग्रिम चौकियों पर पाकिस्तान ने गुरुवार को मोर्टार से गोले दागे और गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया. पाकिस्तान

भारतीय सेना ने कश्मीर में पाक घुसपैठियों के खिलाफ बेहद कड़ी कार्रवाई करते हुए नौशेरा इलाके में पाक पोस्ट को तबाह कर डाला है, साथ ही सेना ने पाक बंकरों की तबाही का एक विडियो भी बनाया है. भारतीय सेना के मेजर जनरल अशोक नरूला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि आतंकियों की घुसपैठ को रोकने के लिए सीमा पर बेहद कड़ी कार्रवाई की गई है. नरूला ने कहा, पाकिस्तानी सेना अपनी चौकियों और बंकरों की मदद से आतंकियों की मदद करता रहा है. भारत ने नौशेरा में जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के पोस्ट को नष्ट कर दिया है. उन्होंने कहा

भारतीय सेना के आधुनिकिकरण की प्रक्रिया में एक और कड़ी जुड़ गई है, अब सीमा पर बोफोर्स तोपों के बाद अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोपें गरजेंगी. इन तोपों से 40 किलोमीटर तक दुश्मन को तहस—नहस किया जा सकेगा. अमेरिका से दो अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोप बुधवार को अमेरिका से भारत लाई गईं. इन तोपों को परीक्षण के लिए जल्द ही राजस्थान के पोखरण भेजा जाएगा. इस साल सितंबर में तीन और अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोपें भारत लाई जाएंगी। इसके बाद मार्च 2019 से लेकर जून 2021 तक हर महीने तीन—तीन तोप भारत लाने की योजना है. आपको बता दें कि 1986 में बोफोर्स तोप