महाराष्ट्र के कद्दावर नेता नारायण राणे ने नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है. राणे पिछले महीने ही कांग्रेस से अलग हुए थे. उनकी पार्टी का नाम महाराष्ट्र स्वाभिमान पार्टी होगा. पार्टी की घोषणा के साथ ही राणे ने शिवसेना और उद्धव ठाकरे पर जमकर निशाना साधा. वह साल 2005 में शिवसेना से अलग हुए थे. उन्होंने कहा,“कौन हैं उद्धव ठाकरे? उन्होंने शिवाजी पार्क में रैली में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, एनसीपी चीफ शरद पवार और मुझ पर हमले बोले. सरकार में उनका क्या योगदान है? उन्होंने पीएम मोदी और नोटबंदी की आलोचना की तब उनके मंत्री चुप क्यों रहे?” उन्होंने कहा,

मुंबई शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा है कि, वंदेमातरम को लेकर राजनीति करने से अच्छा होगा इसको लेकर कानून बनाया जाए। वंदे मातरम् को लेकर चल रहे विवाद को लेकर ठाकरे ने यह बयान दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि, अब बीजेपी के कुछ नेता ही कह रहे हैं कि, वंदे मातरम् न कहने वाला देशद्रोही नहीं हो सकता। अब इस पर क्या बोला जाए। उद्धव ठाकरे मार्मिक वीकली के 57 साल पुरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थें। ठाकरे ने कहा कि, विधिमंडल में पिछले कुछ दिनों से वंदे मातरम को लेकर विवाद शुरू हुआ है। बीजेपी के सांसद राज पुरोहित

महाराष्ट्र में किसान आंदोलन को लेकर BJP और शिवसेना ही आमने-सामने आ गई है. सेना के हमलों के बाद अब राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पलटवार करते हुए कहा है कि वो राज्य में मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार है. फडणवीस ने बुधवार को दिए अपने इस बयान में बिना किसी पार्टी का नाम लिए कहा कि कुछ लोगों ने कहा है कि वे सरकार को गिरा देंगे और समर्थन वापस ले लेंगे. मैंने कहा कि हम मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि अगर कोई हम पर मध्यावधि चुनाव थोपना चाहता है तो मुझे पूरा विश्वास है कि