कोच्चि क्रिकेटर एस श्रीसंत को भले ही केरल हाईकोर्ट से राहत मिल गयी है और उनके ऊपर लगा आजीवन प्रतिबंध हटा दिया गया, लेकिन बीसीसीआइ उसे मानने के लिए तैयार नहीं है। बीसीसीआइ ने सोमवार को केरल हाईकोर्ट में प्रतिबंध हटाने के खिलाफ एक याचिका दायर की है। दायर याचिका में बीसीसीआइ ने कहा है कि हाईकोर्ट का फैसला मौजूदा मानदंडों के खिलाफ है। केरल हाईकोर्ट की एकल पीठ ने बीसीसीआइ द्वारा 2013 आइपीएल स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में श्रीसंत पर लगाया आजीवन प्रतिबंध हटा दिया था। अपने आदेश में न्यायमूर्ति ए मुहम्मद मुश्ताक ने बोर्ड की श्रीसंत के खिलाफ शुरू की गई