विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने  कहा कि सरकार गुर्दे की बीमारी के इलाज के लिए भारत में इलाज की जरूरत रखने वाली एक पाकिस्तानी महिला के लिए वीजा जारी करेगी. इससे पहले महिला नीलमा गफ्फार के पति ने विदेश मंत्री से उसके लिए वीजा की मंजूरी देने का अनुरोध किया था. सुषमा ने पाकिस्तानी महिला की तस्वीर डालते हुए ट्विटर पर लिखा, 'हम भारत में उनके इलाज के लिए वीजा दे रहे हैं.' We are giving Visa for her treatment in India. pic.twitter.com/z3kk2bkfpy https://t.co/yCjkzuK2Op — Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj) October 11, 2017 गौरतलब है कि इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक बीमार

भारत आए एक रूसी पर्यटक इवेंजलिन को तमिलनाडु के कांचीपुरम में श्री कुमारकोट्टम मंदिर के बाहर भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ा. ऐसा उन्हें इसलिए करना पड़ा क्योंकि उनका एटीएम पिन लॉक हो गया था जिसके कारण वह पैसे नहीं निकाल पा रहे थे. वहीं मीडिया रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इवेंजलिन की पूरी मदद करने का आश्वासन दिया है. सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा, 'इवेंजलिन, आपका देश रूस हमारा परखा हुआ घनिष्ठ मित्र है. चेन्नई में हमारे अधिकारी आपकी पूरी मदद करेंगे.' Evangelin - Your country Russia is our time tested friend. My officials

न्यूयॉर्क सुषमा स्वराज यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली (UNGA) के 72वें सेशन में हिस्सा लेंगी। 23 सितंबर को उनकी यूएनजीए में स्पीच है। माना जा रहा है कि सुषमा अमेरिका में पाक के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ से मुलाकात कर सकती हैं। दोनों नेता UNGA के अलावा शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) समिट और सार्क ग्रुप मीटिंग्स में शिरकत करेंगे। - न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, SCO और सार्क ग्रुप मीटिंग्स के अलावा सुषमा 15 बाइलेट्रल मीटिंग में हिस्सा लेंगी। इसमें जी-77, SU, जी-4 और BRICS (ब्राजील, रूस, इंडिया, चीन और साउथ अफ्रीका) मीटिंग शामिल हैं। - विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन रवीश कुमार ने बताया,

पिछले कुछ दिनों से खबरें आ रही हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एनडीए अपना उम्मीदवार बना सकता है. हालांकि अब सुषमा स्वराज ने इन खबरों का खंडन करते हुए इन्हें महज अफवाह बताया है. उन्होंने यह साफ किया है कि वह राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नहीं हैं. पत्रकारों ने जब विदेशमंत्री से पूछा कि क्या राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए उनके नाम पर गौर किया जा रहा है तो उन्होंने कहा कि ये अफवाह हैं. उन्होंने कहा कि वह एक्सटर्नल अफेयर्स की मंत्री हैं और पत्रकार उनसे इंटरनल अफेयर्स से जुड़ा सवाल पूछ रहे