एनजीटी ने माता वैष्णो देवी धाम को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है. एनजीटी ने अपने फैसले में माता वैष्णो में किसी भी प्रकार के निर्माण कार्य पर रोक लगा दी है. इसके साथ ही एनजीटी ने कहा है कि माता के दर्शन के लिए आने वाले भक्तों की संख्या को भी नियंत्रित किया जाए. एनजीटी ने कहा है कि वैष्णो देवी में एक दिन में 50 हजार श्रद्धालु ही दर्शन करें. एनजीटी ने कहा है कि यदि यात्रा के दौरान 50 हजार से ज्यादा यात्री हो जाएं तो उन्हें या तो कटरा में ही रोका जाए या फिर उन्हें यात्रा के मुख्य पड़ाव

 मार्केट में आए 50 और 200 रुपये के नए नोटों को ब्लैक में बेचा जा रहा है. दिवाली और शादी के सीजन ने इसमें और बढ़ोतरी कर दी है. 200 रुपये के नए नोटों की 20 हजार रुपये की गड्डी के लिए 1500-1700 रुपये ज्यादा लिए जा रहे हैं. 50 रुपये के नए नोटों की गड्डी के लिए 500 रुपये तक लिए जा रहे हैं. एक रुपये का नोट भले ही पुराना हो, लेकिन इसकी गड्डी के लिए 650 रुपये ज्यादा लिए जा रहे हैं. एक गड्डी में 100 नोट होते हैं. नोटों को ब्लैक में बेचने वाले वे लोग हैं,