पूर्व प्रधानमंत्री और जाने-मोन अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह आज गुजरात में हैं और वो व्यापारियों को संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी हमारे देश और अर्थव्यवस्था के लिए ब्लैक-डे था. यही नहीं 8 नवंबर हमारे प्रजातंत्र में काले दिन के रूप में ही जाना जाएगा. उन्होंने कहा कि कल 8 नवंबर को काला दिवस का एक साल पूरा होने जा रहा है. विश्व के किसी भी देश में करेंसी को लेकर इस तरह का कदम नहीं उठाया गया है जिसमें 86 फीसदी नोट बाजार से खत्म हो गए हों. अगर कैश लेन-देन को खत्म ही करना है तो उसके लिए कई और कदम उठाए