समाजसेवी अन्ना हजारे दिसंबर के आखिरी हफ्ते में फिर से भ्रष्टाचार, लोकपाल समेत कई मुद्दों पर आंदोलन की शुरुआत करेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेटर लिखकर जनता से किए वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाया है। इसमें अन्ना ने कहा कि सरकार ने देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए कुछ नहीं किया। लोकपाल बिल पर भी कोई कदम नहीं उठाए। हम बापू के दिखाए रास्ते पर दूसरा सत्याग्रह (आंदोलन) करेंगे। अन्ना सोमवार को महात्मा गांधी की 148वीं जयंती के मौके पर राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि देने राजघाट पहुंचे थे। बता दें कि अन्ना ने यूपीए सरकार के वक्त

जब से कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाए हैं, तभी से हर कोई केजरीवाल पर हमलावर है. अब, अरविंद केजरीवाल के गुरू रहे अन्ना हजारे ने भी ऐलान किया है कि अगर उनके खिलाफ आरोप साबित हुए तो वह धरने पर बैठेंगे और उनका इस्तीफा मागेंगे. इससे पहले जब केजरीवाल पर कपिल मिश्रा ने आरोप लगाए थे तब अन्ना हजारे ने कहा था कि टीवी पर केजरीवाल से जु़ड़ी भ्रष्टाचार की खबरें देखकर वो बेहद दुखी हैं. इस मामले में वो पहले पूरी जानकारी लेंगे उसके बाद ही कोई राय देंगे. अन्ना का कहना है कि केजरीवाल भ्रष्टाचार के

दिल्ली दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को दावा किया कि उनके ट्विटर अकाउंट को हैक कर लिया गया है और 'कोई' इस अकाउंट से वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के खिलाफ पोस्ट साझा कर रहा है. यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो पाया कि क्या सिसोदिया ने माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर अपने अकाउंट पर फिर से पूरी तरह से अपना नियंत्रण कर लिया है? उन्होंने ट्वीट किया, ''मेरा अकाउंट हैक कर लिया गया है. कोई अकाउंट से अन्ना हजारे के खिलाफ संदेशों को रिट्वीट कर रहा है. उन्हें डिलीट करने की कोशिश कर रहा हूं लेकिन डिलीट नहीं कर पा रहा हूं.'' एक