गुरुग्राम की भोंडसी जेल में मोबाइल मिलने का सिलसिला अभी थमा नहीं था कि जेल में सुरंग खोदे जाने की साजिश ने जेल प्रबंधन के होश उड़ा दिए हैं। हालांकि, जेल प्रशासन ने समय रहते इस साजिश का पर्दाफाश कर दिया। दरअसल, मंगलवार को देर शाम जेल प्रबंधन ने तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान जब अंडर ट्रायल गैंगस्टर अजीत गुलिया के बैरक की तलाशी ली गई, तो वहां से जेल प्रशासन को लोहे के पाइप, लोहे की छेनी मिली। जेल प्रबंधन की शिकायत पर गुरुग्राम पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गुरुग्राम की भोंडसी जेल एक बार फिर से सवालों के घेरे में है। जेल प्रशासन की ओर से चलाए जा रहे चेकिंग अभियान के दौरान अब तक 80 मोबाइल, 50 बैट्री और 11 सिमकार्ड पकड़े गए हैं। ये आंकड़ा बीते तीन दिन से चल रहे चेकिंग अभियान का है। जेल प्रशासन ने बताया कि उन्हें लावारिस हालत में अलग-अलग बैरेक से मोबाइल मिले हैं।  जानकारी के मुताबिक, इस बार जेल से दस स्मार्टफोन भी पकड़े गए हैं। इस स्मार्ट फोन्स की मदद से कैदी जेल से सोशल मीडिया साइट्स का भी इस्तेमाल करते हैं। जेल के अंदर मोबाइल पहुंचाने का