नई दिल्ली देश में नोटबंदी के बाद डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए किये गये नकनीकी बदलावों से बैंकों को 3800 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। यह जानकारी सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की हालिया रिपोर्ट में सामने आई है। गौरतलब है कि देश में नोटबंदी की घोषणा बीते वर्ष आठ नवंबर को की गई थी। रिपोर्ट के अनुसार देश में कैशलैस अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने कि दिशा में उठाए गए कदम बैंकों को भारी पड़े हैं। डिजिटल भुगतान के लिए भारी संख्या में पीओएस मशीनों की खरीद की गई थी। इस साल जनवरी में