जेएनयू के गुमशुदा छात्र नजीब अहमद के मामले में सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने सीबीआई को जमकर फटकार लगाई है। कोट ने कहा कि इस मामले में कोई परिणाम नहीं है, यहां तक कि कागजों पर भी नहीं। आपको बता दें कि 15 अक्तूबर 2016 को जेएनयू परिसर के माही—मांडवी हॉस्टल से नजीब अहमद लापता हो गया था। उसकी तलाश में परिवार के लोग अब भी जुटे हुये हैं। न्यायमूर्ति जी एस सिस्तानी और न्यायमूर्ति चंद्रशेखर की पीठ ने कहा कि सीबीआई की ओर से इस मामले में दिलचस्पी का अभाव है। पिछली सुनवाई में कोर्ट ने पिछले साले 15 अक्टूबर

गुड़िया प्रकरण की जांच कर रही सीबीआई को हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई है. और CBI को 2 हफ्ते में विस्तृत रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा. मामले की अगली सुनवाई 25 अक्टूबर को होगी. सीबीआई की सुस्त जांच से नाराज़ अदालत ने कहा कि अगर उसके बस की बात नहीं है तो जांच एनआईए से करवाई जाए. इससे पहले सीबीआई ने बंद लिफाफे में स्टेट्स रिपोर्ट पेश की. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि जांच एजेंसी वैज्ञानिक ढंग से मामले की जांच को आगे बढ़ा रही है. एसआईटी ने जिन 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया था उनके नार्को टेस्ट की

पटना सीबीआइ ने रेलवे टेंडर घोटाले में लालू प्रसाद और उनके छोटे पुत्र व बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए आगामी 25 व 26 सितंबर को दिल्ली तलब किया है। बता दें कि रेलवे टेंडर घोटाले में सीबीआइ ने लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव को पूछताछ के लिए विगत 11 व 12 सितंबर को ही बुलाया था। लेकिन दोनों ने अपरिहार्य कारणों से सीबीआइ से कुछ दिन की मोहलत मांगी थी। जिसे स्वीकार कर लिया गया था। गौरतलब है कि आइआरसीटीसी के दो होटलों की नीलामी में बड़े पैमाने पर हुए घोटाले को

शिमला कोटखाई में छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में CBI के जांच दल ने वीरवार को आइजीएमसी शिमला में तीन लोगों के ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे हैं। जिन लोगों के सैंपल लिए गए, वे घटनास्थल के आसपास के बताए जा रहे हैं। इस मामले में CBI की लोगों से पूछताछ जारी है। CBI के विशेष जांच दल ने अब तक 70 से अधिक लोगों के सैंपल लिए हैं। CBI ने इस मामले में कोई नई गिरफ्तारी नहीं की है। इस मामले के एक आरोपी सूरज की पुलिस लॉकअप में मौत हो गई थी। CBI ने सूरज की मौत मामले में

गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई छात्र प्रद्युम्न की हत्या के 7 दिन बाद हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर शुक्रवार को प्रद्युम्न के परिवार से मिलने पहुंचे. मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री खट्टर भावुक हो गए और उन्होंने परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन भी दिया. सीएम मनोहर लाल खट्टर ने मुलाकात के बाद इस केस की CBI जांच का ऐलान कर दिया. मुख्यमंत्री ने  कहा कि सीबीआई प्रमुख अब इस केस की जांच करेंगे. प्रद्युम्न के माता-पिता की मांग पर सीएम ने इस जांच का ऐलान किया है. वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि रयान इंटरनेशनल स्कूल को तीन महीने के लिए

रेलवे होटल लीज घोटाले मामले में लालू यादव आज दिल्ली सीबीआई मुख्यालय में पेश नहीं होंगे. सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, लालू के वकील की अर्जी पर आज समीक्षा की जाएगी और समीक्षा के बाद लालू यादव को फिर से पेश होने के ताजे नोटिस जारी किये जा सकते है. लालू यादव ने सीबीआई की ओर जारी समन के जवाब में अपने वकील के माध्यम से चारा घोटाले के एक मामले में सीबीआई को पत्र भेजा. पत्र में लालू यादव ने 2 अक्टूबर के बाद सीबीआई के सामने हाजिर होने की बात कही.  गौरतलब है कि IRCTC के दो होटलों की देखभाल का

चेन्‍नई: केंद्रीय जांच ब्‍यूरो (सीबीआई) ने शनिवार को पूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन के चेन्‍नई स्थित आवास पर छापेमारी की. 63 वर्षीय नटराजन जुलाई 2011 से लेकर दिसंबर 2013 तक यूपीए-2 के शासनकाल में पर्यावरण मंत्री थीं. सूत्रों के अनुसार सीबीआई उन तीन शिकायतों की जांच कर रही है जिनके अनुसार यूपीए शासन के दौरान नटराजन ने पर्यावरण मंत्री रहते हुए अपने पद का दुरुपयोग किया था. 2015 में उन्‍होंने कांग्रेस छोड़ दी थी. उस वक्‍त उन्‍होंने पार्टी के उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी पर तीखा हमला करते हुए आरोप लगाया था कि पहले तो राहुल गांधी ने उन्‍हें पर्यावरण की रक्षा करने का निर्देश

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. सीबीआई ने रेलवे जमीन आवंटन मामले में लालू यादव और तेजस्वी यादव को समन किया है. लालू यादव को CBI के सामने 11 सितंबर और तेजस्वी यादव को 12 सितंबर को पेश होना है. इस मामले में लालू, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेज प्रताप के अलावा दो कपंनियों के डायरेक्टरों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है. लालू पर आरोप है कि रेलमंत्री रहने के दौरान उन्होंने रांची और पुरी समेत अन्य रेलवे होटलों के विकास और मरम्मत का ठेका निजी कंपनियों

शिमल के कोटखाई में छात्रा से दुष्कर्म और हत्या मामले में हिमाचल हाई कोर्ट ने सीबीआई को स्टेटस रिपोर्ट देने के लिए 2 महीने का वक्त दिया है. मामले में गिरफ्तार आरोपी सूरज की पुलिस लॉकअप में हुई हत्या के मामले में सीबीआई ने आरोपी पुलिस अधिकारियों का पॉलीग्राफी टेस्ट करवाया है. हालांकि सीबीआई ने इस बात पर मौन है कि टेस्ट करवाया है. वह यह जरूर कह रही है कि टेस्ट करवाया जाएगा. सूरज की हत्या की गुत्थी को सीबीआई इसी टेस्ट के आधार पर सुलझाएगी. निलंबित आईजी से लेकर कांस्टेबल तक आरोपियों को सीबीआई ने इसी टेस्ट के

हिमाचल प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह आय से अधिक मामले में बुधवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए. सीएम के साथ में उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह भी थी. बुधवार को वीरभद्र सिंह को सीबीआई ने सीएम की ओर से मांगे गए डॉक्यूमेंट मुहैया नहीं करवाएं. इसके बाद पटियाला हाउस कोर्ट ने मामले की सुनवाई 31 अक्टूबर तक टाल दी. सीबीआई के तरफ से कोर्ट में दलील दी गई कि केस के जांच अधिकारी किसी और मामले में व्यस्त थे. लिहाजा, वह जरूरी कागजात फिलहाल उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं. इसके बाद सीबीआई ने अगली तारीख की मांग की. क्या