रद्धा, आस्था, समर्पण, शक्ति और सेवा भाव से जुड़ा चार दिवसीय पर्व छठ पूजा मंगलवार से नहाय-खाय के साथ आरंभ होगा। सोमवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड अंचल के लोग पूजा की तैयारी में जुटे रहे, जिसके चलते बाजारों में भीड़ रही। छठ व्रत लोकपर्व है। यह एक कठिन तपस्या की तरह है। छठी माता के साथ इस पर्व पर होती है प्रकृति (सूर्य) की आराधना। पूजा में इस्तेमाल की जाने वाली सभी सामग्री प्राकृतिक होती है। उल्लास से लबरेज इस पर्व में सेवा और भक्ति भाव का विराट रूप दिखता है। चार दिन तक छठ के पारंपरिक गीत