चंडीगढ़ में पंजाब कैबिनेट की अहम बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने की, बैठक में वित्त मंत्री मनप्रीत बादल समेत कैबिनेट के कई मंत्री शामिल हुए. बैठक के दौरान कई अहम फैसले लिए गए. बैठक के बाद वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कैबिनेट द्वारा लिए गए फैसलों की जानकारी दी. वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने कहा कि अब हर सप्ताह बुधवार को कैबिनेट बैठक हुआ करेगी. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि तस्करी को रोकने के लिए एक्साइज एक्ट में संशोधन किया गया है. इस संबंधी विधानसभा में बिल पास करवाया जाएगा. वहीं

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह 5 सितंबर को मोहाली में उन युवाओं को नियुक्ति पत्र सौंपेगे जिन्हें रोजगार मेले के दौरान अलग-अलग कंपनियों ने नौकरी के लिए चुना था। इस कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए पंजाब कैबिनेट मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पहुंचे। चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि रोजगार मेले के जरिए नौ सौ युवाओं को नौकरी दी गई है जिन्हें नियुक्ति पत्र सौंपे जाएंगे।

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 17 जुलाई को बुलाई कांग्रेस विधायकों की बैठक की बैठक बुलाई है. आपको बता दें कि इस बैठक में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर चर्चा होगी. आपको बता दें कि मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल आगामी 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है. नये राष्ट्रपति का चुनाव 17 जुलाई को होना है.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आम आदमी पार्टी के विधायक सुखपाल सिंह खैरा पर सियासी हमला बोलते हुए कहा है कि खैरा को कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह के खिलाफ आरोपों की जांच कर रहे रिटायर्ड जस्ट्सि जे.एस. नारंग की ईमानदारी और निष्ठा पर शक करने का कोई अधिकार नहीं है. उन्होंने जस्टिस नारंग तथा मंत्री राणा गुरजीत सिंह के निकट संबंधों पर उठाए गए सभी सवालों को खारिज कर दिया, मुख्यमंत्री ने कहा कि जस्टिस नारंग एक पेशेवर व्यक्ति हैं, अगर कोई जज किसी के साथ रिश्तेदारी रखता है या पेशेवर ढंग से जुड़ा हुआ है तो इसका

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज दिल्ली आएंगे. जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर सकते हैं, और इस दौरान पंजाब मंत्रीमंडल में विस्तार पर चर्चा हो सकती है.