अभी तक आपने छात्रों या नौकरीपेशा लोगों के रहने के लिए पेइंग गेस्ट हॉस्टलों के बारे में सुना होंगा, जहां रहने और खाने के पैसे देने होते हैं. हरियाणा सरकार के इस फैसले के बाद एक नया विवाद उठने की पूरी आशंका है. हरियाणा में शहर के आस-पास 50-100 एकड़ जमीन ली जाएगी. इनमें से कुछ जमीन पर पारंपरिक डेरी बनेगी, जबकि कुछ जमीन पर पीजी हॉस्टल बनाया जाएगा. यह सिस्टम उन लोगों के लिए होगा जो जानवर पालना तो चाहते हैं, लेकिन उनके पास रखने के लिए जगह नहीं है. जैसे फ्लैट में रहने वाले लोग. बताया जा रहा है

आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, मिस्र एवं बहरीन समेत कई देशों द्वारा राजनयिक संबंध तोड़ने से दूध और अन्य खाद्य उत्पादों के लिए विदेशों पर निर्भर रहने वाले कतर ने ताजा संकट से निपटने के लिए नायाब तरीका खोज निकाला है. संकट की इस घड़ी में कतर के एक बड़े व्यवसायी मोताज अल खयात ने ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका से चार हजार गायों को कतर एयरवेज के विमानों से दोहा लाने का फैसला किया है. इन गायों को दोहा लाने के लिए कतर एयरवेज के विमानों को करीब 60 बार उड़ान भरनी होंगी. एक वयस्क गाय

हैदराबाद हैदराबाद हाई कोर्ट के एक जज ने शुक्रवार को गाय को लेकर बड़ी टिप्पणी की है. जस्टिस बी शिवाशंकर राव ने कहा कि गाय माँ और भगवान का 'विकल्प' है. साथ ही उन्होंने गाय को पवित्र राष्ट्रीय धरोहर बताते हुए यह भी कहा कि गाय को राष्ट्रीय पशु का दर्जा मिलना ही चाहिए. कुछ दिन पहले ही राजस्थान हाई कोर्ट ने भी गाय को राष्ट्रीय पशु का दर्जा देने की बात कही थी. जस्टिस शिवाशंकर राव ने सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर का जिक्र करते हुए कहा कि बकरीद के मौके पर मुस्लिम धर्म के लोगों को स्वस्थ्य गाय को काटने का

दिल्ली देशभर में गौ-हत्या और गौ-रक्षा का मुद्दा छाया हुआ है. भारत-बांग्लादेश सीमा पर गायों की तस्करी का मसला काफी पुराना है. केंद्र सरकार गायों की तस्करी रोकने और उनकी रक्षा के लिए प्रयासरत है. इसी सिलसिले में केंद्र सरकार ने भारत-बांग्लादेश सीमा पर गायों की तस्करी का रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपा है. केंद्र सरकार ने कोर्ट को बताया कि संयुक्त सचिव, गृह मंत्रालय की अध्यक्षता वाली एक समिति बनाई गई थी, जिसने इस मामले में कुछ सिफारिशें दी हैं. पशुओं की सुरक्षा और देखरेख को लेकर केंद्र सरकार आधार कार्ड जैसा सिस्टम लागू करना चाहता है. सरकार ने यह जानकारी