देश सेवा में तैनात भारतीय सैनिकों के लिए हर आम नागरिक में सम्मान होता है। इसकी एक मिसाल कल (8 अक्टूबर) को जम्मू एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग में उस वक्त देखने को मिली, जब सेना की वर्दी में सीआरपीएफ के सैनिक चार्टर एयरक्राफ्ट से जम्मू से श्रीनगर के लिए रवाना हो रहे थे। ऐसे में वहां मौजूद आम लोगों ने खास अंदाज में उनके जज्बे को सलाम किया। #WATCH: CRPF personnel greeted by public with a thunderous applause just as they entered the terminal building of Jammu Airport (October 8) pic.twitter.com/NMeSg07oMg — ANI (@ANI) October 9, 2017 सैनिकों के एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग

भारतीय सेना और अर्द्धसैनिक बल के जवानों की शहादत पर हिमाचल सरकार अब 20 लाख रुपए देगी. शहीदों के परिवारों को राज्य सरकार की ओर से 20 लाख रुपयेअनुग्रह अनुदान राशि (एक्सग्रेशिया) मिलेगी. इस संबंध में प्रदेश सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है. इससे पहले, शहीदों के परिवारों को सरकार पांच लाख रुपये प्रदेश सरकार की ओर से दिए जाते थे. इसके अलावा, पैरामिलिट्री फोर्सेस के जवानों के परिवारों को डेढ़ लाख रुपये अनुदान का प्रावधान था. सैनिक कल्याण विभाग को इस संबंध में अधिसूचना मिल गई है. अब सरकार आर्मी और पैरामिलिट्री जवानों के शहीद होने पर परिवार को 20

श्रीनगर श्रीनगर के पंथा चौका में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है और दो जवान जख्मी हो गए हैं. सीआपीएफ के आईजी रविदीप साही ने बताया कि आतंकियों ने सीआरपीएफ के वाहन पर फायरिंग की जिसमें एक एसआई शहीद हो गए और दो अन्य जवान घायल हो गए. उन्होंने बताया कि पूरे इलाके को घेर लिया गया है. ये फिदायीन हमला नहीं है बल्कि ये शूटआउट है. https://twitter.com/ANI_news/status/878606710935629824 बताया जा रहा है कि जहां ये हमला हुआ है वह कमर्शियल इलाका है और थोड़ी दूर पर बस अड्डा है. इस आतंकी वारदात के बाद से पूरे इलाके में

जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सीआरपीएफ कैंप पर ग्रेनेड अटैक से 10 जवान घायल हो गए हैं. घटना मंगलवार शाम 6 बजकर 5 मिनट पर हुई. मिली जानकारी के  मुताबिक हमला  सीआरपीएफ की 180 बटालियन को निशाना बनाकर किया गया.  पहले हमले में सीआरपीएफ के चार जवान घायल होने की खबर आई थी. हमले के बाद इलाके की घेरेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. सोमवार को भी आतंकियों ने पुलवामा जिले में सीआरपीएफ कैंप को निशाना बनाकर ग्रेनेड फेंका था. वहीं दूसरी तरफ नियंत्रण रेखा से सटे इलाके में पाकिस्तान की तरफ से होने वाले सीजफायर के मामलों में

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के सुम्बल में सोमवार तड़के 4 बजे सीआरपीएफ(CRPF) कैम्प पर आतंकी हमला हुआ. इसमें सिक्युरिटी फोर्सेस ने 4 आतंकी मारे. ये हमला सीआरपीएफ की 45 बटालियन के कैम्प पर हुआ. आतंकी सुसाइड अटैक करने के इरादे से घुसे थे. अनंतनाग जिले में शनिवार को आतंकियों ने आर्मी के काफिले पर हमला किया. काफिले पर फायरिंग जिले के काजीगुंड इलाके में हुई. इसमें 2 जवान शहीद और 5 जख्मी हो गए थे. वहीं, पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ और कृष्णा घाटी सेक्टर में सीजफायर वॉयलेशन किया था. पुंछ में शुक्रवार रात 11 बजे से पाक की तरफ से मोर्टार दागे

दिल्ली कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) का न्यासी बोर्ड अपनी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में अनिवार्य अंशदान को घटाकर 10 प्रतिशत करने के प्रस्ताव को कल मंजूरी दे सकता है. मौजूदा व्यवस्था के तहत कर्मचारी और नियोक्ता कर्मचारी को भविष्य निधि योजना (ईपीएफ), कर्मचारी पेंशन योजना (ईपीएस) तथा कर्मचारी जमा सम्बद्ध बीमा योजना (ईडीएलआई) में कुल मिलाकर मूल वेतन का 12-12 प्रतिशत का योगदान करना होता है. सूत्रों ने बताया कि ईपीएफओ की बैठक आज यानी 27 मई 2017 को पुणे में होनी है. बैठक के एजेंडे में यह विषय भी है. इसके तहत कर्मचारी व नियोक्ता द्वारा अंशदान को घटाकर मूल वेतन (मूल

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली और सुरक्षाबलों के बीच तीन दिनों तक चली मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने करीब  15-20 नक्सलियों को मार गिराने का दावा किया है. इस लड़ाई में एक जवान के शहीद होने और दो के घायल होने की ख़बर है. पुलिस के मुताबिक माओवादियों के ख़िलाफ 3 दिनों तक ऑपरेशन चलाया गया. 100-150 की संख्या में नक्सलियों को घेरा गया था. खासबात ये थी कि पहली दफा माओवादी कोबरा जवानों की वर्दी में देखे गए. इस ऑपरेशन में सीआरपीएफ, डीआरजी, ज़िला बल और कोबरा के जवान शामिल थे. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के आईजी देवेन्द्र चौहान ने

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ जवानों पर नक्सलियों के हमले में स्थानीय ग्रामीणों के शामिल होने की बात सामने आई है. अंग्रेजी अखबार 'द हिंदू' ने सीआरपीएफ की अंदरूनी जांच के हवाले से लिखा है कि इस हमले में कम से कम तीन गांव के लोगों ने मदद की थी. 24 अप्रैल को हुए इस हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हुए थे. अखबार ने जांच में शामिल एक सीआरपीएफ अधिकारी के दावे को छापा है. इस अधिकारी के मुताबिक बुर्कापाल, चिंतागुफा और कासलपाड़ा गांव के ज्यादातर लोग हमले में 'अप्रत्यक्ष' तौर पर शामिल थे. इस अधिकारी की मानें तो

अक्षय कुमार के बाद शहीद परिवारों की मदद के लिए अब अभिनेता विवेक ओबेरॉय आगे आए हैं। विवेक ओबेरॉय ने सीआरपीएफ के शहीद 25 जवानों के परिवार को फ्लैट देने का फैसला किया है। सोशल मीडिया पर उनके इस कदम की खूब सराहना हो रही है। विवेक ओबेरॉय की रियल इस्टेट कंपनी ‘कर्म’ की ओर से महाराष्‍ट्र स्‍थित ठाणे में हैं। कंपनी ने इसके लिए सीआरपीएफ को पत्र भी लिखा है। ये फ्लैट अलग-अलग ऑपरेशन के तहत शहीद जवानों के परिवार को मिलेंगे।

दिल्ली मौत को मात देकर दोबारा जीवन जीने वाले सीआरपीएफ के जवान चेतन चीता कश्मीर के हालात से परेशान हैं. चेतन का कहना है कि वह कश्मीर को मिस कर रहे हैं और इस समय उन्हें वहां पर होना चाहिए था, क्योंकि वहां पर मेरी जरूरत है. चेतन चीता ने कहा कि वह दोबारा कोबरा टीम का हिस्सा बनना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि इतनी सारी गोलियां खाने का बाद भी मैं यहां आपके सामने बैठा हूं, पर अभी भी लगता है कि मेरा कोई काम अधूरा है. यह इसलिये है कि मैं कुछ खास ही हूं. बताते चलें कि 14 फरवरी को