बाबा राम रहीम जेल में आम कैदियों की तरह नहीं रह रहा है, बल्कि जेल में भी ऐश कर रहा है. दरअसल, रोहतक जेल से रिहा हुए एक कैदी ने खुलासा किया है कि जेल में राम रहीम को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है. साथ ही उसे वो तमाम सुविधाएं मिल रही हैं जो जेल के बाकी कैदियों को नसीब नहीं हैं. रेप का दोषी राम रहीम हरियाणा की रोहतक जेल में बंद है लेकिन जेल में कैसे राम रहीम ने बाकी कैदियों की जिंदगी नर्क बना दी है इसका खुलासा किया जेल से जमानत पर रिहा हुए एक युवक

चंडीगढ़ साध्वियों से रेप केस में 20 साल की सजा काट रहे राम रहीम को लेकर आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। ऐसे ही एक खुलासे के तहत पासपोर्ट डिपार्टमेंट ने नियमों को ताक पर रखकर अंबाला में महज आधे घंटे में राम रहीम का पासपोर्ट जारी किया था। राम रहीम ने 2015 में टोपी पहनकर पासपोर्ट के लिए फोटो खिंचवाई थी। विदेश मंत्रालय इसकी जांच कर रहा है। नियमों के अनुसार आवेदक पासपोर्ट के लिए फोटो खिंचवाते समय टोपी नहीं पहन सकता। वहीं कहा जा रहा है कि राम रहीम पर पासपोर्ट एक्ट के तहत केस दर्ज हो सकता

सिरसा डेरा सच्चा सौदा से 17 डेरों को अलग करने की पिटिशन पर गुरुवार को हाईकोर्ट की ओर से अप्वाइंट कोर्ट कमिश्नर एकेएस पंवार ने सिरसा में दोनों पक्षों से पूछताछ की। उन्होंने मिनी सेक्रेटेरिएट के मीटिंग हॉल में दोनों पक्षों को बुलाया था। पूछताछ के दौरान डेरा चेयरपर्सन विपासना इंसां ने कोर्ट कमिश्नर के सामने दावा किया है कि जिन 17 डेरों को डेरा सच्चा सौदा से अलग बताया जा रहा है, वो वास्तव में डेरा का ही हिस्सा हैं। कोर्ट कमिश्नर एकेएस पंवार के साथ मीटिंग के बाद विपासना इंसां ने मीडिया को बताया कि उन्होंने कोर्ट कमिश्नर के सामने

रेप केस में राम रहीम के जेल जाने के बाद पंचकूला में हुई हिंसा की जांच कर रही एसआईटी ने चंडीगढ़ पुलिस के एक हेड कांस्टेबल को गिरफ्तार किया है. लाल चन्द नाम का यह पुलिस कर्मचारी खुफिया विभाग में तैनात है. इसके साथ ही इस केस से जुड़े तीन और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस चारों से पूछताछ कर रही है. सूत्रों के मुताबिक, 25 अगस्त के दिन लाल चन्द बिना किसी ड्यूटी के पंचकूला की सीबीआई कोर्ट के बाहर तैनात था. उस पर आरोप है कि वह डेरा सच्चा सौदा का अनुयाई है. उसे उस दिन

डेरा सच्चा सौदा की चेयरपर्सन विपासना इंसां आज फिर SIT के सामने पेश नहीं हुई.  विपासना ने SIT को मेडिकल रिपोर्ट भेजकर पंचकूला पहुंचकर जांच में शामिल होने पर असमर्थता जाहिर की. पंचकूला पुलिस आज फिर विपासना इंसां पूछताछ करने वाली थी. पुलिस के आला अधिकारियों ने विपासना से पूछताछ के लिए सवालों की लिस्ट तैयार कर रखी थी. बता दे कि विपासना को दोबारा पंचकूला बुलाया गया था.  इससे पहले विपासना और हनीप्रीत को आमने-सामने बैठाकर 13 अक्टूबर को पूछताछ की गई थी. विपासना से हनीप्रीत के लैपटॉप और डायरी के अलावा डेरा की बेनामी संपत्तियों से जुड़े सवाल पूछे

डेरा सच्चा सौदा की चैयरपर्सन विपासना इंसां आज पूछताछ के लिए पंचकूला थाने नहीं पहुंची.  विपासना ने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर जांच में शामिल होने पर असमर्थता जताई. SIT ने समन देकर विपासना को सेक्टर -23 थाने में जांच के लिए बुलाया था. पुलिस विपासना अौर हनीप्रीत को आमने-सामने बैठा कर पूछताछ करना चाहती थी. इसके साथ ही पुलिस विपासना से पंचकूला हिंसा को लेकर भी पूछताछ करने वाली थी. इससे पहले हनीप्रीत अौर ड्राईवर राकेश से पूछताछ की गई थी लेकिन उन दोनों ने पुलिस के किसी भी सवाल का ठीक से जबाव नहीं दिया था. उल्लेखनीय है

पंचकूला कोर्ट से हनीप्रीत का रिमांड मिलने के बाद हरियाणा पुलिस हनीप्रीत से राम रहीम के राज उगलवाने में जुट गई है. पुलिस हनीप्रीत की निशानदेही पर सबूत जुटाने में लग गई है. हनीप्रीत को पंचकूला के सेक्टर 23 थाने से छोटी बस के जरिए सेक्टर बीस थाने में लाया गया. जहां, पूछताछ के दौरान हनीप्रीत के साथ उसकी साथी सुखदीप कौर भी मौजूद रही. सुरक्षा के मद्देनजर हरियाणा पुलिस, महिला पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स के जवान भी सुरक्षा में तैनात है. जानकारी के मुताबिक हनीप्रीत को अब पुलिस बठिंडा लेकर पहुंच सकती है. जहां, हनीप्रीत की निशानदेही पर पुलिस

SIT की पूछताछ में डेरा सच्चा सौदा को लेकर कुछ अहम जानकारी सामने आई है. सिरसा में SIT के डीएसपी कुलदीप सिंह ने जब डेरा सच्चा सौदा के वाईस चेयरमैन डॉ पीआर नैन से पूछताछ की तो उन्होंने हड्डी और कंकाल से जुड़े कुछ दस्तावेज SIT को सौंपे. पूछताछ के बाद मीडिया से बात करते हुए डीएसपी कुलदीप ने बताया कि पंचकूला और सिरसा दंगों को लेकर डॉ पी आर नैन से पूछताछ की गई है और इस पूछताछ में डॉ नैन ने छह सौ अस्थिदान का रिकार्ड भी SIT की टीम को सौंपा है. डीएसपी कुलदीप सिंह ने कहा कि

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति और डेरे के पूर्व मैनेजर रंजीत सिंह मर्डर मामले में गुरमीत राम रहीम की सीबीआई कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अहम सुनवाई हुई। कोर्ट ने रंजीत हत्याकांड मामले में सोमवार को फिर से सुनवाई के आदेश दिए हैं। वहीं,पत्रकार रामचंद्र छत्रपति के मामले में 22 सितंबर के बाद होगी सुनवाई।22 सितंबर को ही राम रहीम के पूर्व ड्राइवर  खट्टा सिंह अपना बयान दर्ज करवाएंगे। शनिवार को पेशी के दौरान आज दोनों हत्याओं के मामले में सभी सात आरोपी सीबीआई कोर्ट में पेशी किए गए। करीब 13 साल बाद हत्या के ये दोनों मामले अब निर्णायक दौर में हैं। यौन

डेरा सच्चा सौदा मामले में हरियाणा के डीजीपी बीएस संधु ने बड़ा खुलासा किया है..पंचकुला की सीबीआई अदालत से राम रहीम भगाने की कोशिश करने में पंजाब पुलिस के 8 जवान शामिल थे, उनमें से 3 को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार पुलिस कर्मी में से एक रिमांड पर है और दो न्यायिक हिरासत में है..पांच को नोटिस जारी करके जवाब मांगा गया है.वहीं, उन्होंने बताया कि इस मामले में जांच का दायरा हरियाणा से बाहरी प्रदेशों तक जा सकता है.साथ ही डेरा के प्रबंधन के पैंतालीस सदस्यों को पुलिस जांच में शामिल करने की तैयारी में है.उन्होंने बताया