पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख की घोषणा न होने पर चुनाव आयोग की आलोचना की है. उन्होंने पीएम मोदी की रविवार को प्रस्तावित गुजरात यात्रा पर भी सवाल उठाया है. एक माह के भीतर मोदी की यह पांचवी गुजरात यात्रा होगी. चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा है कि जब गुजरात सरकार हर तरह की छूट का ऐलान कर लेगी, तब चुनाव आयोग गुजरात में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करेगा. उन्होंने दूसरे ट्वीट में ये तंज कसते हुए लिखा कि चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री को अधिकार दिया है कि वह

चुनाव आयोग ने आगामी हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया। प्रदेश की सभी 68 सीटों पर मतदान 9 नवंबर को कराए जाएंगे। वहीं, नतीजे 18 दिसंबर को घोषित होंगे। चुनाव आयोग ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि इस बार सभी बूथों पर VVPAT मशीन का इस्तेमाल होगा। चुनाव आयोग ने बताया कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 7521 पोलिंग बुथ पर कराया जाएगा। वहीं, चुनाव आयोग ने साफ किया कि आज गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान नामांकन, रैली और जुलूस की वीडियोग्राफी होगी। इससे पहले चुनाव

इस्लामाबाद :  पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने विपक्ष के नेता इमरान खान की गिरफ्तारी के लिए गैर जमानती वारंट जारी किया है. आयोग ने पूर्व क्रिकेटर द्वारा उस पर पक्षपात का आरोप लगाये जाने को लेकर यह कार्रवाई की है. जियो न्यूज की खबर के मुताबिक मुख्य चुनाव आयुक्त की अगुवाई वाली पांच सदस्यी पीठ ने 64 वर्षीय खान के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी करते हुए उन्हें 26 अक्तूबर को होने वाली सुनवाई के लिए पेश होने का आदेश दिया. पाकिस्तान में चुनाव आयोग गिरफ्तारी वारंट जारी कर सकता है. इसी बीच खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने कहा कि

गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव को लेकर चुनाव आयोग की और से तैयारियां पूरी की जा रही हैं. इसी के मद्देनजर आज पंजाब चुनाव आयोग के अधिकारी गृह मंत्रालय से मुलाकात करेंगे. दरअसल, पंजाब के अतिरिक्त मुख्य चुनाव आयुक्त मनप्रीत छतवाल ने बताया कि उपचुनाव के दौरान सुरक्षा के मद्देनजर सरकार ने 27 टुकड़ियों की मंजूरी दी. लेकिन केंद्र से 57 टुकड़ियों की मांग की गई थी. ऐसे में पंजाब चुनाव आयोग ने इन टुकड़ियों को नाकाफी बताते हुए ज्यादा टुकड़ियों की मांग की है. उन्होंने बताया कि गुरदासपुर उपचुनाव के लिए 1771 बूथ बनाए गए हैं. जिनमें से संवेदनशील और अति

हिमाचल प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग अनूठी पहल कर रहा है. प्रदेश के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों के 136 मतदान केंद्रों की पूरी जिम्मेदारी महिलाओं के जिम्मे रहेगी. इसमें मतदान कराने से लेकर रिटर्निंग अफसर की जिम्मेदारी भी महिलाएं निभाएंगी. विधानसभा चुनाव की तैयारी की समीक्षा को लेकर शिमला पहुंचे मुख्य निर्वाचन आयुक्त अचल कुमार जोति ने पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि निष्पक्ष मतदान और मतगणना के लिए हर विधानसभा क्षेत्र के एक-एक पोलिंग स्टेशन की ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों के मतों की साथ गिनती कराकर

राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई है. निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी. निर्वाचन अधिकारी अनूप मिश्रा की ओर से जारी अधिसूचना में यह जानकारी दी गई है. इसके साथ ही राष्टपति पद के चुनाव की औपचारिक प्रक्रिया शुरू हो गई है. जानाकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से चर्चा के लिए बीजेपी के तीन सदस्यों की एक समिति बनाई है. इस समिति में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री अरुण

चुनाव सुधार के लिए गठित की गई संसदीय समिति आज चंडीगढ़ का दौरा करेगी। इस दौरान ये समिति तमाम राजनीतिक पार्टियों के साथ बैठक करेगी। इस बैठक में हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

दिल्ली चुनाव आयोग द्वारा इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीन हैक करने को लेकर 3 जून को हैकाथॉन का आयोजन किया गया है. ईवीएम टैंपरिंग के आरोप को लेकर हमलावर रही आम आदमी पार्टी भी इसी दिन ईवीएम चैलेंज हैकाथॉन का अयोजन करेगी. सौरभ भारद्वाज का कहना है कि चुनाव आयोग ने कभी भी हेकाथॉन की बात नहीं की थी, EC ने हमेशा ही ईवीएम चैलेंज की बात की है. भारद्वाज ने कहा कि आम आदमी पार्टी के टेक ग्रुप ने फैसला किया है कि अपनी खराब मशीन का चैलेंज को वह 3 जून को आयोजित करेंगे. इसमें वह देश के सभी एक्सपर्ट और चुनाव

ईवीएम मशीन हैक करने के लिए आज आवेदन करने का आखिरी दिन है, लेकिन अभी तक किसी भी पार्टी ने इसके लिए आवेदन नहीं किया है. आपको बता दें कि ईवीएम हैकिंग को लेकर चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों को खुली चुनौती थी, लेकिन अभी तक किसी भी पार्टी की तरफ से कोई नामांकन नहीं हुआ है. चुनाव आयोग के प्रवक्ता ने गुरुवार देर शाम को बताया  कि अब तक किसी पार्टी ने किसी जानकार को ईवीएम चुनौती स्वीकार करने के लिए नामित नहीं किया है. इससे पहले 20 तारीख को आयोग ने घोषणा की थी कि 3 जून से ईवीएम चैलेंज

चुनाव आयोग द्वारा EVM हैकिंग चुनौती के लिए घोषित कुछ शर्तों को लेकर आम आदमी पार्टी ने आपत्ति जताई है. आप ने कहा की विशेषज्ञों को मशीनों को खोलने की पूर्ण आजादी दी जानी चाहिए. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा कि EVM हैकिंग के लिए शर्ते रखना वैसा ही है जैसे किसी को हाथ-पैर बांध कर तैरने के लिए कहना. उन्होंने कहा कि हमने अपने प्रदर्शन में दिखाया कि किस प्रकार EVM का मदरबोर्ड बदला जा सकता है लेकिन चुनाव आयोग ने उस पर रोक लगा दी. अगर आप लोगों को मशीनें देखने और चिप हटाने का मौका