नई दिल्ली एक अक्टूबर से दुकानदार पुराने खुदरा मूल्य यानि एमआरपी पर सामान नहीं बेच सकेंगे. 30 सितंबर को सरकार की ओर से दी गई पुराने सामान बेचने की समय सीमा समाप्त हो रही है. ऐसे में अगले महीने से दुकान पर नए एमआरपी का सामान ही बेचा जाएगा. ये नए दाम जीएसटी के बाद सामानों की कीमतों में आए बदलाव के आधार पर होंगे. वहीं ये भी जानकारी दी जा रही है कि 30 सितंबर के बाद यदि कोई दुकानदार पुराने मूल्य पर ही सामान बेचता है तो उसकी सामग्री जब्त कर ली जाएगी. उपभोक्ता मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया को

आपकी पसंदीदा कारों, मोटरसाइकलों एवं स्कूटरों के दाम शनिवार से घट रहे हैं क्योंकि शुक्रवार रात से ही जीएसटी पूरे देश में लागू हो चुका है। हालांकि, हाइब्रिड्स और 350 सीसी से ज्यादा क्षमता के इंजन वाले बड़े बाइक महंगे पड़ेंगे। इस बीच, मारुति सुजुकी ने अपनी कुछ चुनिंदा गाड़ियों के दाम में 3 प्रतिशत तक की कटौती का ऐलान किया है। वहीं, मारुति की कुछ हाइब्रिड कारें महंगी भी हो गई हैं। गाड़ियां बनाने वाली कंपनियों का कहना है कि जीएसटी रेट्स से पूरे देश में एक समान टैक्स लगेगा, जिससे 'एक देश एक टैक्स' की व्यवस्था लागू होगी। मुंबई