गुड़गांव प्रद्युम्न मर्डर केस के आरोपी बस कंडक्टर अशोक को गुरुवार को कोर्ट से राहत नहीं मिल सकी. यहां कोर्ट ने सीबीआई से पूछा है कि किस आधार पर अशोक को अरेस्ट किया गया है.  इस पर सुबह सीबीआई ने कोई रिस्पॉन्स नहीं दिया. दोपहर फिर से सुनवाई हुई तो सीबीआई ने कहा कि हालांकि अशोक के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं है, लेकिन मामले की जांच अभी जारी है. दूसरी ओर प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने भी अशोक को जमानत दे दिए जाने का विरोध किसा. इसी बीच कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई अब 20 नवंबर तय की

प्रद्युम्न हत्याकांड की जांच में तेजी आई है. गुरुग्राम पुलिस ने प्रद्युम्न हत्या  मामले में पूछताछ के लिए आरोपी रेयान ग्रुप के ट्रस्टी रेयान पिंटो और ग्रेस पिंटो को समन जारी किया है. समन में  पिंटो परिवार को 26 सितंबर को पेश होने के लिए कहा है.इस पूरे मामले में पुलिस स्कूल की लापरवाही भी मान रही है जिसके लिए पुलिस मालिकों से पूछताछ करेगी.आपको बता दें कि रेयान परिवार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज होने के बाद से इनपर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है

हरियाणा के लोकायुक्त ने गुुरुग्राम के पुलिस कमिश्नर और जिले की आर्म्स लाइसेंसिंग अथॉरिटी को बॉलिवुड ऐक्ट्रेस सोहा अली खान को जारी किए गए हथियार लाइसेंस मामले में क्रियात्मक खामियों की जांच के आदेश दिए हैं। जुलाई तक यह रिपोर्ट देने के आदेश दिए गए हैं। बता दें कि पीपल फॉर एनिमल हरियाणा के चेयरमैन नरेश कादियान ने लोकायुक्त को दी शिकायत में बताया है कि जब सोहा 18 साल की थीं, उन्हें लाइसेंस जारी किया गया। 5 नवंबर, 1996 को यह लाइसेंस गुड़गांव अथॉरिटी की ओर से जारी किया गया था। यह लाइसेंस एक गन और राइफल के लिए था।