गुरुग्राम की भोंडसी जेल एक बार फिर से सवालों के घेरे में है। जेल प्रशासन की ओर से चलाए जा रहे चेकिंग अभियान के दौरान अब तक 80 मोबाइल, 50 बैट्री और 11 सिमकार्ड पकड़े गए हैं। ये आंकड़ा बीते तीन दिन से चल रहे चेकिंग अभियान का है। जेल प्रशासन ने बताया कि उन्हें लावारिस हालत में अलग-अलग बैरेक से मोबाइल मिले हैं।  जानकारी के मुताबिक, इस बार जेल से दस स्मार्टफोन भी पकड़े गए हैं। इस स्मार्ट फोन्स की मदद से कैदी जेल से सोशल मीडिया साइट्स का भी इस्तेमाल करते हैं। जेल के अंदर मोबाइल पहुंचाने का

गुरुग्राम के प्रद्युम्न हत्या केस में आरोपी बस कंडक्टर अशोक को गुरुग्राम की जिला अदालत ने जमानत दे दी है।  कोर्ट ने 50 हजार रुपए के  मुचलके पर अशोक को जमानत की है। इससे पहले सोमवार को कोर्ट में कंडक्टर अशोक की जमानत पर बहस के बाद जज ने फैसला सुरक्षित रख लिया। इससे पहले 16 नवंबर को भी स्पेशल कोर्ट में इस मुद्दे पर बहस हो चुकी है। सीबीआई के वकील ने जांच पूरी होने तक कंडक्टर अशोक की जमानत का विरोध किया था। वहीं अशोक के वकील का दावा था कि अशोक के खिलाफ कोई भी सबूत नहीं है

दिल्ली से सटे गुड़गांव के मशहूर फोर्टिस अस्पताल में एक बच्ची की डेंगू के इलाज का बिल 18 लाख रुपए आया। इस भारी-भरकम बिल के बाद भी बच्ची को बचाया नहीं जा सका। अस्पताल के बिल में डॉक्टरों द्वारा प्रयोग किए 2700 दस्ताने और 660 सिरिंज भी शामिल थे। ट्विटर यूजर ने बिल की कॉपी के साथ पूरी घटना शेयर की, जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने सभी जरूरी डिटेल्स और रिपोर्ट मेल करने के लिए कहा। Please provide me details on hfwminister@gov.in .We will take all the necessary action. https://t.co/dq273L66cK — Jagat Prakash Nadda (@JPNadda) November 20, 2017 ट्विटर यूजर ने

गुरुग्राम के नया गांव में हरियाणा का पहला हाईटेक लाडो लाइब्रेरी खोला गया। इस लाइब्रेरी का उद्घाटन लाडो मधु ने किया। इसके लिए बहुत बड़े स्तर पर उद्घाटन समारोह भी ग्राम पंचायत भी रखा गया। बीबीपुर मॉडल से नया गांव में हरियाणा का पहला हाईटेक पुस्तकालय खुला है। इसका शुभारंभ कराने के लिए दो अलग-अलग ड्रा निकाले गए, जिसमें मुख्य अतिथि के नाम सामने आए। इनमें 50 से अधिक बेटियों के नाम शामिल किए गए थे। सुनील जागलान ने बताया कि इस लाइब्रेरी को सफल मॉडल बनाएंगे और दूसरे गांवों को भी डिजिटल शिक्षा देंगे। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि विकास एवं

प्रद्युम्न मर्डर केस में पुलिस की नजर कैसे कई अहम सबूतों पर नहीं गई। यह सवाल पुलिस को संदेह के दायरे में ले आता है। सीबीआई को शक है कि गुरुग्राम पुलिस जानती थी कि असली कातिल कौन है और उसे बचाने की कोशिश की जा रही थी। सूत्रों के अनुसार, मर्डर में 11वीं के छात्र को दोषी मानने के बाद अब सीबीआई साजिश के ऐंगल की ही जांच कर रही है। मर्डर में उस छात्र के शामिल होने के काफी सबूत सीबीआई को मिल चुके हैं लेकिन अब इस बात की जांच हो रही है कि उसे बचाने में

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए दिल्ली में भारी वाहनों की एंट्री बैन कर दी गई है, जिसे देखते हुए गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस ने भी कमर कस ली है और शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस के आला अधिकारियों की मानें तो उन्होंने जिले के साथ लगते रेवाड़ी, झज्जर और नूंह जिले के ट्रैफिक अधिकारियों को भी इस बारे में सूचित कर दिया है। उन्होंने उनसे कहा है कि, वो भारी वाहनों को अपनी सीमाओं में ही रोक लें या उन्हें डाइवर्ट कर दें ताकि भारी वाहनों की इंट्री

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न मर्डर केस में एक नया मोड़ आ गया है. इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने स्कूल के ही 11वीं के एक छात्र को गिरफ्तार किया है. हत्या के इस मामले में छात्र से पूछताछ की जा रही है. सीबीआई की गिरफ्त में आरोपी बस कंडक्टर अशोक कुमार पहले से ही है. इस वारदात के बाद सबसे पहले बस कंडक्टर अशोक कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उस वक्त आरोपी ने हत्या की बात कबूल की थी, लेकिन बाद में वह अपने बयान से पलट गया था. उसने कहा था कि

महिलाएं भी किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। हरियाणा के गुरुग्राम की रहने वाली दो जुड़वा बच्चों की मां नीतू खोसला ने मिसेज इंडिया यूनिवर्स का ताज अपने नाम किया है। नीतू खोसला के पति आर्मी में कर्नल हैं और वह मूल रूप से अंबाला की रहने वाली है। मात्र तीन महीने की मेहनत से ही नीतू खोसला ने यह मुकाम हासिल किया है। नीतू खोसला ने बताया कि महिलाओं में भी प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। कमी है तो उन्हें समुचित प्लेटफॉर्म न मिलने की। नीतू खोसला ने कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से केमिस्ट्री में पोस्ट ग्रैजुएट हैं और एक

गुरुग्राम में व्यापारी ने बहादुरी दिखाते हुए लूट की कोशिश को नाकाम कर दिया. घटना शिवाजी नगर की है कि जहां राजेंद्र नाम के व्यापारी ने दो नकाबपोश हथियारबंद लुटेरों का हिम्मत से सामना किया.जब राजेन्द्र की हिम्मत के सामने लुटेरों की एक न चली, तो वो मौके पर देसी कट्टा और बाइक छोड़कर फरार हो गए. ये पूरी वारदात वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई. फिलहाल पुलिस ने शिकायत के आधार पर कार्रवाई शुरू कर दी है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर लुटेरों की पहचान की जा रही है.