हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन भरने का आज आखिरी दिन है. कांग्रेस नेता आशा कुमारी आज डलहौजी से अपना नामांकन भरेगी. वहीं वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह शिमला रूरल से नामांकन दाखिल करेंगे. पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल आज सुजानपुर सीट से नामांकन दाखिल करेंगे. हिमाचल प्रदेश में नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 26 अक्टूबर है. हिमाचल प्रदेश में कुल 68 विधानसभा सीटों के लिए 9 नवंबर को वोटिंग होगी और 18 दिसंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव के लिए अबतक 195 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किए हैं. 18 अक्टूबर को बीजेपी ने

शिमला के कोटखाई के बहुचर्चित गैंगरेप मर्डर केस में चारों आरोपी सेशन कोर्ट से राहत मिली है. कोटखाई के बहुचर्चित गैंगरेप मर्डर केस में 12 जुलाई से हिरासत में चल रहे चारों आरोपियों को सेशन कोर्ट ने जमानत दे दी है. लेकिन बेल बॉन्ड भरने के बाद ही आरोपियों को जेल से रिहा किया जाएगा. बॉन्ड भरने के लिए आरोपियों के एक हफ्ते का वक्त दिया गया है. इससे पहले 13 अक्टूबर को मामले में मुख्य आरोपी माने जा रहे आशीष चौहान को जमानत मिल गई थी. बता दे कि मामल में अब तक सीबी आई इसके खिलाफ कोर्ट में चालान

शिमला सीएम वीरभद्र सिंह अगला विधानसभा चुनाव ठियोग विधानसभा सीट से लड़ेंगें। उन्होंने शुक्रवार को यहां इसका ऐलान किया। ठियोग-कुमारसेन विधानसभा हलके से आए प्रतिनिधिमंडल के बीच सीएम ने यह ऐलान किया। ठियोग-कुमारसेन के युवा नेता और प्रदेश औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष अतुल शर्मा की अगुवाई में आए पंचायत प्रभावों, बीडीसी सदस्यों और जिला परिषद सदस्यों के समक्ष सीएम वीरभद्र सिंह ने ठियोग से चुनाव लडऩे का ऐलान किया। वीरभद्र सिंह 20 अक्टूबर को ठियोग में अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। उस दिन ठियोग में कांग्रेस की भारी जनसभा भी होगी। सीएम ने कहा कि ठियोग उनके लिए कोई नया इलाका

कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश प्रभारी सुशील कुमार शिंदे तीन अगस्त को शिमला आएंगे। संगठन और सरकार के बीच की रार खत्म करने की चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी लेकर शिंदे शिमला कांग्रेस कार्यालय में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, मंत्रियों, विधायकों और संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक कर सकते हैं। हिमाचल दौरे के प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार शिंदे दो अगस्त को धर्मशाला पहुंचेंगे जिसके अगले दिन तीन अगस्त को राजधानी दौरे पर होंगे। पहले भी हिमाचल के प्रभारी रह चुके शिंदे प्रदेश में संगठन और भौगोलिक स्थिति से परिचित हैं। संगठन और सरकार के बीच की खींचतान को खत्म करने में श्ंिादे इसी तजुर्बे का इस्तेमाल करेंगे।

शिमला में तीन दिवसीय हिमाचल बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक का आज दूसरा दिन है। आज बैठक में जेपी नड्डा, प्रेम कुमार धूमल और शांता कुमार शामिल होंगे। इस बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव पर चर्चा होगी। पार्टी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने बताया कि बैठक में प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों,बिगड़ी कानून व्यवस्था। केंद्र की योजनाओं को लागू करने में सरकार की नाकामी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाया जाएगा।

शिमला वहशी दरिंदों को गिरफ्तार करो, बहादुर बेटी अमर रहे, जैसे नारों से पूरा शहर गूंज उठा. कोटखाई के महासू में 10वीं कक्षा की मासूम बेटी को मौत के घाट उतारने वाले अपराधियों की गिरफ्तारी न होने को लेकर शहर के लोग सड़क पर उतर गए. शनिवार को जहां सैकड़ों लोगों ने संजाैली से लेकर रिज मैदान तक कैंडल मार्च निकाला, वहीं छात्र संगठन एसएफआई और एनएसयूआई ने सरकार अौर पुलिस प्रशासन के खिलाफ डीसी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया. संजौली चौक से करीब 3.30 बजे सैकड़ों लोग रिज मैदान की ओर कैंडल मार्च निकालते हुए निकले. लोगों का कहना है कि

आंगन में खेल रही थी चार साल की बच्ची को दरिंदा बहला फुसलाकर सुनसान जगह पर ले गया और हवस का शिकार बना डाला। हिमाचल के सोलन जिले के औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ में एक चार साल की बच्ची से दुराचार का मामला सामने आया है। घटना बुधवार सुबह करीब 11 बजे की है। बच्ची अपने आंगन में खेल रही थी तो पड़ोसी चाचा उसे बहला फुसलाकर किसी सुनसान जगह पर ले गया तथा उसे अपनी हवस का शिकार बना डाला। बच्ची को खून से लथपथ बेहोशी की हालत में देखकर उसके परिवार वालों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने