तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में सोमवार को हुई भारी बारिश से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है.  बारिश का स्तर पिछले 5 घंटों में रिकॉर्ड स्तर पार कर चुका है.  इस बारिश ने आम जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है साथ ही इस घटना में तीन लोगों की मौत की भी खबर है. मौसम विभाग ने इस बारिश के लिए मानसून को जिम्मेदार बताया है. प्रशासन और सरकार की ओर से प्रभावित व्यक्तियों के लिए मदद पहुंचाई जा रही है और बचाव कार्य के लिए एमडीआरएफ टीम को भी तैनात कर दिया गया है. बारिश की वजह से हुई घटनाओं में

हैदराबाद हैदराबाद पुलिस ने बुधवार को एक और मैरिज रैकेट का भंडाफोड़ किया। पुलिस ने इस कार्रवाई में 17 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें चार मौलानाओं समेत सऊदी अरब, अमन और कतर के 8 शेख भी शामिल हैं। इनपर निर्दोष लड़कियों के साथ धोखेबाजी का आरोप है, जो शादी के नाम पर छल करते हैं। पुराने शहर से संचालित हो रहे इस रैकेट में शामिल चार लॉज मालिकों व पांच दलालों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, अरब शेखों ने फलकनुमा व चंद्रयान गट्टा नामक दो नाबालिग लड़कियों से कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर शादी की। इससे पहले मुंबई

हैदराबाद शहर के सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान के दौरान खड़े नहीं होने वाले 3 छात्रों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तीनों छात्र कश्मीरी हैं और इन पर आरोप है कि राष्ट्रगान के वक्त बैठे हुए थे। तेलंगाना पुलिस के एक अधिकारी ही इस केस में व्हिसल ब्लोअर बने हैं। घटना शनिवार की बताई जा रही है। पुलिस का कहना है कि जमील गुल, उमर फैज और मुदाबिर शब्बीर शनिवार की दोपहर अट्टापुर में बरेली की बर्फी फिल्म देखने पहुंचे थे। सुप्रीम कोर्ट के नियम के अनुसार राष्ट्रगान फिल्म शुरू होने से पहले बजाया गया, लेकिन तीनों छात्र अपने स्थान पर

हैदराबाद हैदराबाद हाई कोर्ट के एक जज ने शुक्रवार को गाय को लेकर बड़ी टिप्पणी की है. जस्टिस बी शिवाशंकर राव ने कहा कि गाय माँ और भगवान का 'विकल्प' है. साथ ही उन्होंने गाय को पवित्र राष्ट्रीय धरोहर बताते हुए यह भी कहा कि गाय को राष्ट्रीय पशु का दर्जा मिलना ही चाहिए. कुछ दिन पहले ही राजस्थान हाई कोर्ट ने भी गाय को राष्ट्रीय पशु का दर्जा देने की बात कही थी. जस्टिस शिवाशंकर राव ने सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर का जिक्र करते हुए कहा कि बकरीद के मौके पर मुस्लिम धर्म के लोगों को स्वस्थ्य गाय को काटने का

मुंबई मुंबई, चेन्नै और हैदराबाद से उड़ान भरने वाली फ्लाइट्स को एक साथ हाइजैक करने की साजिश से जुड़ी खुफिया सूचना मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं. सुरक्षा अधिकारियों को जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक, प्लेन को अगवा करने की इस योजना में 23 लोगों की एक टीम शामिल है. सूचना मिलते ही इन तीन समेत देश के सभी अहम हवाई अड्डों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. ऐसे में इन तीन हवाई अड्डों से उड़ान भरने वाले यात्री पर्याप्त वक्त रहते चेक-इन करके आखिरी वक्त में होने वाली देरी से बच सकते हैं. इस खतरे की भनक